ए.जी.एस ट्रांज़ेक्ट टेक्नोलॉजीज आई.पी.ओ समीक्षा

बाकी IPO का विश्लेषण

ए.जी.एस ट्रांज़ेक्ट टेक्नोलॉजीज आई.पी.ओ

7.2

कंपनी का बैकग्राउंड

7.0/10

प्राइस बैंड

7.0/10

वित्तीय स्वास्थ्य

6.5/10

उद्योग की स्थिति

7.5/10

फंड उपयोग

8.0/10

Pros

  • एकाधिक उद्योगों में ग्राहक
  • भागीदारों के साथ लंबे समय से स्थायी संबंध
  • विभिन्न राजस्व धाराएं

Cons

  • आंतरिक वित्तीय नियंत्रण में कुछ चिंताएं
  • सीमित लाभदायक वर्ष

ए.जी.एस ट्रांज़ेक्ट टेक्नोलॉजीज पृष्ठभूमि

AGS Transact Technologies IPO Hindi

ए.जी.एस ट्रांजेक्ट टेक्नोलॉजीज एंड-टू-एंड कैश और डिजिटल भुगतान समाधान और स्वचालन तकनीक के कारोबार में है।

उन्होंने 2004 में और आज बैंकिंग स्वचालन समाधान के साथ अपने परिचालन शुरू किए, वे भारत के अनुकूलित उत्पादों और सेवाओं के अग्रणी प्रदाताओं में से एक हैं जिनमें टी.एम आउटसोर्सिंग और नकदी प्रबंधन, और डिजिटल भुगतान समाधान शामिल हैं जिनमें व्यापारी समाधान, लेनदेन प्रसंस्करण सेवाएं और मोबाइल वालेट शामिल हैं।

इंडिया ए.टी.एम प्रबंधित सर्विसेज मार्केट आउटलुक के अनुसार 2023 तक, केन रिसर्च, जून 2018, ए.जी.एस ट्रांज़ेक्ट  टेक्नोलॉजीज प्रबंधित ए.टी.एम की संख्या, ए.टी.एम प्रबंधित सेवाओं से राजस्व और नकदी प्रबंधन के साथ प्रदान की गई ए.टी.एम की संख्या के मामले में भारत की दूसरी सबसे बड़ी कंपनी होगी।

इसके अलावा, वे नकदी प्रबंधन से राजस्व के मामले में चौथी सबसे बड़ी हैं। अब वे श्रीलंका, सिंगापुर, कंबोडिया और फिलीपींस जैसे अन्य एशियाई देशों को अपनी सेवाएं प्रदान करते हैं।

3 मुख्य खंड जिसमें उनका व्यवसाय संचालित होता है वे भुगतान समाधान, बैंकिंग स्वचालन समाधान और अन्य स्वचालन समाधान हैं, जो खुदरा, पेट्रोलियम और रंग क्षेत्र के ग्राहकों को सरव करते हैं।

ए.जी.एस ट्रांज़ेक्ट अपने कुछ व्यवसाय और संबंधित संचालनों का प्रबंधन करने के लिए आई पी ओ के साथ आ रहा है।


ए.जी.एस ट्रांज़ेक्ट टेक्नोलॉजीज प्रबंधन सूचना

ए.जी.एस ट्रांज़ेक्ट  टेक्नोलॉजीज बोर्ड में 8 निर्देशक शामिल हैं।

श्री रवि बी. गोयल अध्यक्ष और प्रबंध निर्देशक, श्री बद्रीरन के. गोयल और श्रीमती अनुपमा आर. गोयल गैर-स्वतंत्र और गैर-कार्यकारी निर्देशक हैं। श्री सुदीप बांदोपाध्याय, श्री जगदीश कैपूर, श्री शिवानंदन धनुष्कोदी, श्री विजय चुग और श्री राहुल नारायण भगत ए.जी.एस ट्रांज़ेक्ट टेक्नोलॉजीज के स्वतंत्र और गैर-कार्यकारी निर्देशक हैं।

रवि बी. गोयल मुंबई विश्वविद्यालय से एक योग्य इंजीनियर हैं और प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में 23 से अधिक वर्षों का अनुभव है। वर्तमान में, वह अध्यक्ष और प्रबंध निर्देशक के रूप में ए.जी.एस ट्रांज़ेक्ट  टेक्नोलॉजीज और इसकी सहायक कंपनियों के समग्र संचालन के प्रबंधन में लगे हुए हैं।


ए.जी.एस ट्रांज़ेक्ट टेक्नोलॉजीज आई.पी.ओ डेटा

ए.जी.एस ट्रांज़ेक्ट टेक्नोलॉजीज आई.पी.ओ (अनजान) पर खुल जाएगा और सदस्यता के लिए बंद होगा (अनजान) को।

आई.पी.ओ आकार (अनजान) इक्विटी शेयरों का होगा और प्रत्येक शेयर का फेस वैल्यू 10 होगा। इन (अनजान) शेयरों में से, (अनजान) शेयर बाजार निर्माताओं के लिए आरक्षित होंगे और बाकी (अनजान) शेयर निवेशकों को जारी किए जाएंगे।

मूल्य बैंड रेंज ₹(अनजान) – ₹(अनजान) प्रति शेयर पर सेट की गई है। आई.पी.ओ आकार ₹(अनजान) तक होने की उम्मीद है। बाजार का आकार (अनजान) इक्विटी शेयर है और शेयर नेशनल स्टॉक एक्सचेंज और बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में सूचीबद्ध होंगे।

प्रस्ताव में दो मुख्य प्रकार के शेयर शामिल हैं:

  • ए.जी.एस ट्रांज़ेक्ट टेक्नोलॉजीज द्वारा 4000 मिलियन तक एकत्रित, इक्विटी शेयरों का एक नया मुद्दा (अनजान) इक्विटी शेयर।
  • ​​बेचना शेयरधारकों द्वारा 6000 मिलियन तक की समेकित इक्विटी शेयर (अनजान) तक की बिक्री के लिए एक प्रस्ताव।

7 जून, 2018 को एक प्रस्ताव के अनुसार, इक्विटी शेयरों का ताजा मुद्दा निदेशक मंडल और ए.जी.एस ट्रांज़ेक्ट  टेक्नोलॉजीज लिमिटेड के शेयरधारकों द्वारा अधिकृत किया गया है।


ए.जी.एस ट्रांज़ेक्ट टेक्नोलॉजीज वित्तीय प्रदर्शन

पिछले तीन वर्षों में कुल राजस्व और कुल परिसंपत्तियों में निरंतर क्रमिक वृद्धि हुई है। 

हालांकि, कर के बाद लाभ पिछले 3 वर्षों में से दो में नकारात्मक था। 31 मार्च, 2016 और 2017 तक समाप्त हुए वित्तीय वर्ष में हानि हुई और कंपनी ने 31 मार्च, 2018 को समाप्त हुए वित्तीय वर्ष में मुनाफा पैदा करना शुरू किया। पी.ए.टी पिछले वर्ष में 215.21 मिलियन की हानि से 63.21 मिलियन हो गया।

AGS Transact Technologies IPO Hindi

31 मार्च, 2018, 2017 और 2016 को समाप्त हुए वित्तीय वर्ष के लिए कंपनी के नेट वर्थ पर रिटर्न की संख्या 3.89%, 1.17% और 1.55% थी।

इसके अलावा, आइए कंपनी के परिचालन, वित्तीय और वित्त पोषण गतिविधियों के माध्यम से कंपनी में नकदी प्रवाह पर तुरंत नज़र डालें:

AGS Transact Technologies IPO Hindi

ए.जी.एस ट्रांज़ेक्ट टेक्नोलॉजीज आई.पी.ओ ऑब्जेक्टिव्स जैसा कि ऊपर चर्चा की गई है, ए.जी.एस ट्रांज़ेक्ट  टेक्नोलॉजीज आई.पी.ओ में 2 हिस्से हैं। इसके अलावा, इन भागों में अपनी विशिष्ट आवश्यकताओं और इरादे बढ़ाने के इरादे हैं:

  • बिक्री के लिए प्रस्ताव – बिक्री के लिए पेश किए गए शेयरों की आय बिक्री शेयरधारकों से संबंधित होगी। कंपनी बिक्री के शेयरों के प्रस्ताव की किसी भी आय के हकदार नहीं होगी।
  • इक्विटी शेयरों का एक नया मुद्दा – ताजा मुद्दे की आय निम्नलिखित दो उद्देश्यों के लिए उपयोग की जाएगी:  
    • बैंकों और वित्तीय संस्थानों से लिया गया कुछ ऋण चुकाने या प्रीपेमेंट के लिए।
    • सामान्य कॉर्पोरेट उद्देश्यों से संबंधित खर्चों को पूरा करने के लिए।

उपरोक्त उल्लिखित वस्तुओं के अलावा, ए.जी.एस ट्रांज़ेक्ट टेक्नोलॉजीज को उनकी ब्रांड छवि और दृश्यता में वृद्धि करके आई.पी.ओ से लाभ होगा।


ए.जी.एस ट्रांज़ेक्ट टेक्नोलॉजीज आई.पी.ओ घटनाएं

ए.जी.एस ट्रांज़ेक्ट टेक्नोलॉजीज ने आई.पी.ओ निर्मित पुस्तक के लिए 20 अगस्त, 2018 को भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (सेबी) के साथ ड्राफ्ट रेड हेरिंग प्रॉस्पेक्टस (डी.आर.एच.पी) दायर किया।

प्रस्ताव (अनजान) पर खुल जाएगा और (अनजान) पर बंद होगा। आवंटन के आधार पर अंतिम रूप से (अनजान) होने की उम्मीद है और धनवापसी की शुरुआत (अनजान) से शुरू होने की उम्मीद है।

खातों को डीमैट खातों में स्थानांतरित करने की उम्मीद है (अनजान) और अपेक्षित लिस्टिंग तिथि (अनजान) होगी।


ए.जी.एस ट्रांज़ेक्ट टेक्नोलॉजीज आई.पी.ओ – निवेश करें या नहीं

आइए हम ए.जी.एस ट्रांज़ेक्ट टेक्नोलॉजीज के कारोबार से संबंधित कुछ ताकतों और जोखिमों की जांच करें।

उनकी सबसे बड़ी ताकत समाधान और प्रौद्योगिकी में बैंकिंग, खुदरा, पेट्रोलियम, टोल और पारगमन, नकद प्रबंधन और वित्तीय प्रौद्योगिकियों जैसे न केवल भारत में बल्कि श्रीलंका, फिलीपींस आदि जैसे अन्य एशियाई देशों में विभिन्न उद्योगों को पूरा करता है।

व्यापार में अपने ग्राहकों के लिए इन-हाउस अनुकूलित समाधान विकसित करने की मजबूत क्षमताएं हैं। उनके अनुभव और विशेषज्ञता ने ग्राहकों की बदलती जरूरतों को पूरा करने के लिए अनुकूलित भुगतान समाधान प्रदान करने के लिए अपनी नवीनता बढ़ाने में मदद की है।

उनके व्यापार की एक और बड़ी ताकत यह है कि उनके उत्पाद पोर्टफोलियो, ग्राहक आधार और राजस्व धाराएं एक विविध श्रेणी से आती हैं, जो उन्हें क्रॉस-सेलिंग अवसर प्रदान करती है।

वे वैश्विक प्रौद्योगिकी प्रदाताओं, जैसे डाइबॉल्ड निक्सडोर्फ और ए.सी.आई के साथ अच्छे दीर्घकालिक संबंध भी साझा करते हैं। उन्हें अपने ग्राहकों से आई.सी.आई.सी.आई बैंक लिमिटेड, एक्सिस बैंक और एच.डी.एफ.सी बैंक लिमिटेड जैसे दोहराए गए आदेश मिल चुके हैं।

उनके पास घर के बुनियादी ढांचा और तकनीकी क्षमताऐं हैं। उनकी अनुभवी और कुशल प्रबंधन टीम भी कंपनी के लिए एक बड़ी संपत्ति है, जो उन्हें उद्योग में अवसरों की पहचान करने में मदद करती है और अपने व्यापार को बढ़ाने और बढ़ाने के लिए अपनी व्यावसायिक रणनीतियों को लागू करती है।

उनके पास विकास और विस्तार उद्देश्यों के लिए योजनाबद्ध स्ट्रिंग रणनीतियों भी हैं। 31 मार्च, 2018 को समाप्त हुए वित्तीय वर्ष में कारोबार से कुल राजस्व ₹14,813.17 मिलियन था। वित्तीय वर्ष 2016 से 2018 के बीच, संचालन से कुल राजस्व 10.7% के सी.ए.जी.आर में बढ़ गया।

अब, व्यापार से जुड़े जोखिमों पर आते हैं।

ए.जी.एस ट्रांज़ेक्ट टेक्नोलॉजीज की राजस्व की एक बड़ी राशि उनके बैंकिंग उद्योग के ग्राहकों से ली गई है। ए.टी.एम की संख्या या भारत में उनके उपयोग के विकास पर प्रतिकूल प्रभाव डालने वाले किसी भी बदलाव से कंपनी की लाभप्रदता पर प्रतिकूल असर पड़ेगा।

उनके एक या दो सबसे बड़े ग्राहकों पर उनकी निर्भरता कंपनी के लिए एक और जोखिम है। व्यापार के लिए एक उद्योग से संबंधित जोखिम भी है। उनके ग्राहकों के उद्योग को भारतीय रिजर्व बैंक (आर.बी.आई) द्वारा अत्यधिक विनियमित किया जाता है। नीतियों या कानूनों में कोई भी परिवर्तन ए.जी.एस ट्रांज़ेक्ट प्रौद्योगिकियों के कारोबार को प्रभावित कर सकता है।

ए.टी.एम के लिए उपयोग की जाने वाली अपनी लीज्ड साइटों को संचालित करने और बनाए रखने में संभावित समस्याएं, कुछ उत्पादों और सेवाओं के लिए तीसरे पक्षों पर निर्भरता व्यापार से संबंधित कुछ अन्य जोखिम हैं।

एक अन्य महत्वपूर्ण जोखिम कारक यह है कि उनके लेखा परीक्षकों ने प्राप्तियां और नवीनीकृत सूची जारी करने पर कंपनी के आंतरिक वित्तीय नियंत्रण में भौतिक कमजोरी की ओर इशारा किया है। इसके परिणामस्वरूप वित्तीय विवरणों में गलत लेखांकन हो सकता है।

साथ ही, कुछ कानूनी कार्यवाही चल रही हैं जिनमें कंपनी, साथी संस्थाएं, निदेशकों, कंपनी की सहायक कंपनियां और उनके प्रमोटर शामिल हैं। कंपनी ने साल 2017 और 2016 को नकारात्मक ई.पी.एस के घाटे की भी सूचना दी। वे एक कंपनी के लिए स्वस्थ संकेत नहीं हैं। हालांकि कंपनी ने पिछले वित्त वर्ष से लाभ की रिपोर्टिंग शुरू कर दी है, लेकिन भविष्य के प्रदर्शन की भविष्यवाणी करना मुश्किल है।

यह कहा जा सकता है कि निवेशकों को सावधान रहना चाहिए और इस पेशकश में निवेश से बचने का विकल्प चुन सकते हैं। आगामी तिमाहियों में कंपनी की लाभप्रदता अभी तक देखी जा सकती है।

हालांकि, यदि आपके पास अपेक्षाकृत अधिक जोखिम की भूख है, तो आप दीर्घकालिक निवेश में निवेश करना चुन सकते हैं।

यदि आप इस आई.पी.ओ या सामान्य रूप से किसी अन्य निवेश के लिए आवेदन करना चाहते हैं, तो हम इसमें आगे बढ़ाने में आपकी सहायता कर सकते हैं:

स्टॉक ब्रोकर का सुझाव

 


ए.जी.एस ट्रांज़ेक्ट टेक्नोलॉजीज आई.पी.ओ सलाहकार सूचना

आई.सी.आई.सी.आई सिक्योरिटीज लिमिटेड, एक्सिस कैपिटल लिमिटेड, एच.डी.एफ.सी बैंक लिमिटेड, आई.आई.एफ.एल होल्डिंग लिमिटेड, इंडसइंड बैंक और नोमुरा फाइनेंशियल एडवाइजरी एंड सिक्योरिटीज (इंडिया) प्राइवेट लिमिटेड इस मुद्दे के लिए बुक रनिंग लीड मैनेजर्स के रूप में कार्य कर रहे हैं।

लिंक इनटाईम इंडिया प्राइवेट ए.जी.एस ट्रांज़ेक्ट टेक्नोलॉजीज आई.पी.ओ को रजिस्ट्रार के रूप में कार्य कर रहा है। एक्सिस कैपिटल और एडलवाइस वित्तीय सेवाएं इस मुद्दे के व्यापारी बैंकरों के रूप में कार्य कर रही हैं।

Summary
Review Date
Reviewed Item
ए.जी.एस ट्रांज़ेक्ट टेक्नोलॉजीज आई.पी.ओ
Author Rating
31star1star1stargraygray

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *