ड्रैगनफलाई डोजी

बाकी चार्टिंग पैटर्न्स

ड्रैगनफलाई डोजी बुलिश रिवर्सल पैटर्न अक्सर डाउनट्रेंड के सबसे  निचले भाग में पाया जाता है। ड्रैगनफलाई डोजी की निचली छाया स्पष्ट रूप से लंबी होती है और इसमें कोई ऊपरी छाया नहीं होती है। इस पैटर्न में कीमत खुलने, बंद होने और हाई (Open, Close and High) का बिंदु एक ही स्तर पर बनता है।

ड्रैगनफलाई डोजी में ओपन क्लोज और हाई करीबी बिंदुओं पर बनते हैं। ड्रैगनफलाई डोजी की एक महत्वपूर्ण पहचान इसकी लंबी निचली छाया है। लंबी निचली छाया से पता चलता है कि बाजार में मांग (Demand) है।

Dragonfly Doji

बुल्स और बियर्स के बीच युद्ध के संदर्भ में समझें तो यह बियर्स यानि मंदड़ियों द्वारा किये गये एक अप्रभावी प्रयास को दर्शाता जिसमें वे कीमतों को नीचे धकेलने की कोशिश करते हैं मगर स्पोर्ट लेवल की उपस्थिति और कीमतों का चढ़ाव उसे शुरुआती कीमत तक पहुंचा देता है।

कभी-कभी ड्रैगनफलाई डोजी को डाउनट्रेंड के हिस्से के रूप में देखा जा सकता है जो बाजार में खरीदारों की शक्ति को दर्शाता है। लेकिन ज्यादातर समय ट्रेंड रिवर्सल आने वाली तेजी की ही भविष्यवाणी करता है। संक्षेप में यह ट्रेंड स्पष्ट रूप से बुल्स की जीत दिखाता है।


ड्रैगनफलाई डोजी का मतलब

अनिर्णय और ट्रेंड रिवार्सल ड्रैगनफलाई डोजी की पहचान है।

T-आकार ड्रैगनफलाई डोजी की एक स्पष्ट विशेषता है क्योंकि यह तब बनता है जब एक ट्रेडिंग डे में पहले डाउनट्रेंड दिखता है फिर ट्रेंड रिवर्सल दिखता है और फिर आखिर में कीमत शुरुआती मूल्य के करीब बंद होती है। सामान्य तौर पर कैंडलस्टिक का आकार ओपनिंग और क्लोजिंग मूल्य के बीच की रेंज को दर्शाता है।

विक्स या शेडो दिन के दौरान होने वाले हाई और लो को दिखाते हैं। इस संदर्भ में ड्रैगनफलाई डोजी दिन के हाई मूल्य, ओपनिंग और क्लोजिंग एक से मूल्य पर दिखाता है।

यह पैटर्न बाजार में ऐसे कारोबार का प्रतिनिधित्व करता है जहां मंदी के साथ ट्रेड हो रहा है मगर इसके बाद ट्रेंड रिवर्सल होता है।

हालांकि बाजार ओपनिंग प्राइस से आगे नहीं बढ़ पा रहा है। प्राइस रिवर्सल उसे केवल उस सीमा तक ले जाता है जो उस दिन के ओपनिंग प्राइस तक है। ऐसा ट्रेंड कई कारणों से हो सकता है। एक कारण यह है कि निवेशक आशावान नहीं थे और कीमतों के बढ़ने की उम्मीद कम थी।

ड्रैगनफ्लाई डोजी हैमर पैटर्न और लॉंग लेग्ड डोजी पैटर्न से काफी मिलती जुलती है। ड्रैगनफ्लाई डोजी और लॉन्ग लेग्ड डोजी के बीच मुख्य अंतर यह है कि लॉन्ग लेग वाले डोजी में ऊपरी शेडो स्पष्ट होती है।

हैमर पैटर्न और ड्रैगनफ्लाई डोजी के बीच का अंतर ओपनिंग और क्लोजिंग कीमतों के डेटा बिंदुओं के संबंध में है। इन महत्वपूर्ण अंतरों पर विचार करने से ट्रेडर्स को यह निर्धारित करने में मदद मिलती है कि क्या वे सही ड्रैगनफ्लाई डोजी को पहचान रहे हैं।


ड्रैगनफ्लाई डोजी पैटर्न में ट्रेडिंग

ड्रैगनफ्लाई डोजी किसी कैंडलस्टिक पैटर्न में ऐसी स्थिति का संकेत दे सकता है जहां एक रिवर्सल की संभावना है।

जब एक ट्रेडर ड्रैगनफ्लाई डोजी की स्थिति को उपयुक्त रूप से पहचानने लगता है तो वह सही समय पर बाजार में प्रवेश करने और बाहर निकलने के लिए जमीन तैयार कर लेता है। अन्य कैंडलस्टिक पैटर्न के समान, ड्रैगनफ्लाई डोजी के साथ ट्रेडिंग करना सबसे अधिक सफल तब होता है जब आप पास की कैंडल्स में इसकी पुष्टि देख पाते हैं।

उदाहरण के लिए, यदि आप ड्रैगनफ्लाई डोजी को स्पोर्ट (Support) लेवेल के करीब देखते हैं और इसकी शेडो का निचला हिस्सा बोलिंगर बैंड के बाहर स्थित है तो यह बताता है कि खरीदारों की रुचि बन रही है और वे महत्वपूर्ण ट्रेडिंग पोजिशन ले रहे है। कभी-कभी, आप बोलिंगर बैंड के बाहर एक बड़ी निचली शेडो भी देख सकते हैं और यह एक महत्वपूर्ण बॉटम दिखा सकता है, खासकर जब स्टॉक की क्लोजिंग बैंड के भीतर होती है।

जब ट्रेडिंग गतिविधि की शुरुआत में डाउनट्रेंड दिखता है  तो इसका मतलब है कि स्टॉक की आपूर्ति मांग से अधिक (Supply more than Demand) है। जवाब में कीमतें गिर सकती हैं। समय के साथ, मांग में निरंतर वृद्धि के कारण आपूर्ति और मांग के बल बराबर हो जाते हैं। इस मामले में कीमत उस दिन के लो प्वॉइंट तक पहुंच चुकी होती है।

ट्रेंड में इस तरह का बदलाव आखिर तक रहता है और मांग धीरे-धीरे बाजार में आपूर्ति से अधिक हो जाती है। मूल्य में वृद्धि इस हद तक हो जाती है कि इसकी क्लोजिंग ओपनिंग के करीब पहुंच जाती है।

Dragonfly Doji

प्रारंभिक आपूर्ति और मांग सत्र समाप्त होने पर हाई डेटा बिंदु पर एक साथ बंद होते है। ट्रेडिंग में इस बिंदु पर ट्रेडर्स के लिए खरीद फिर से शुरू करने की सिफारिश नहीं की जाती है। इससे पहले यह ट्रेंड जारी रहेगा इसकी पुष्टि कर लेनी चाहिये।

एक रणनीति यह इंतजार करना हो सकती कि अगले दिन कीमत कैसे बढ़ती है। यदि आप एक सफेद कैंडलस्टिक देखते हैं तो केवल उस दिन के हाई से ऊपर खरीदने की सलाह दी जाती है जब आप ट्रेंड में रिवर्सल की पुष्टि देखते हैं। इस मामले में यह डाउनट्रेंड के लो प्वॉइंट  के नीचे स्टॉप-लॉस रखने में भी मदद करता है।

यदि आप ड्रैगनफ्लाई डोजी बनने के बाद ट्रेडिंग सेशन के शुरू में बाजार में प्रवेश कर रहे हैं, तो यह कंफर्म करना अच्छा है कि क्या बाजार डोजी के हाई रेट से ऊपर ही खुला है। जब ऐसा होता है तो ट्रेडर सुरक्षित स्थिति में होता है और तुरंत खरीद शुरू कर सकता है।

अन्य मामलों में, जब बाजार हाई रेट पर या इसके ठीक नीचे खुलता है  तो खरीद गति विधि तभी सुरक्षित होती है जब कीमत हाई रेट को पार करती है। इस मामले में ट्रेडर को न्यूनतम मूल्य  से नीचे एक स्टॉप-लॉस लगा देना चाहिये।


ड्रैगनफ्लाई डोजी को समझना

आइए ड्रैगनफ्लाई डोजी से संबंधित कुछ विशिष्ट पहलुओं को जल्दी से साझा करें, जो सीधे आपके शेयर बाजार के ट्रेडों में मुनाफे पर कब्जा करने में आपकी सहायता कर सकते हैं:

ड्रैगनफ्लाई डोजी का महत्व

सभी डोजी बाजार में कमजोरी और एक रिवर्सल ट्रेंड होने का संकेत देती हैं। रिवर्सल या तो मंदी या तेजी की तरफ हो सकता है। रिवर्सल का स्थान इस बात पर निर्भर करता है कि एक डोजी कैंडलस्टिक एक विस्तृत चार्ट पर कहां दिखाई देता है।

डोजी का महत्व उस समय बढ़ जाता है जब यह रसिसटेंस या स्पोर्ट के एरिया के पास होता है, या Overbought या Oversold बाजार में होता है। इसके अलावा ट्रेंड लाइन में मल्टीपल डोजिस (Multiple Dojis) की तुलना में सिंगल डोजी का अधिक महत्व है।

ड्रैगनफ्लाई डोजी की विश्वसनीयता

जब आप एक डाउनट्रेंड के निचले हिस्से में बाय सिगनल के साथ एक ड्रैगनफ्लाई डोजी देखते हैं, तो यह ट्रेंड रिवर्सल की संभावना के बारे में अधिक विश्वसनीयता दिखाता है। विश्लेषकों का मानना ​​है कि ड्रैगनफ्लाई डोजी केवल 50% समय में ट्रेंड रिवर्सल दिखाता है।

वास्तव में, ड्रैगनफ्लाई डोजी रिवर्सल या एक सपाट कैंडलस्टिक के रूप में कार्य नहीं कर सकता है। ओपनिंग और क्लोजिंग रेट की स्थिति के कारण ऊपर की ओर ब्रेकआउट की संभावना बहुत अधिक होती है।

डाउनवर्ड ब्रेकआउट के बाद जब बाजार में मंदी हो तो केवल 5.02% की गिरावट की उम्मीद की जा सकती है। 10-दिवसीय प्रदर्शन में सबसे अच्छा परिदृश्य डाउनट्रेंड  ब्रेकआउट का है जब तेजी का ट्रेंड होता है। मंदी के ट्रेंड में अक्सर ड्रैगनफ्लाई डोजी कैंडलस्टिक के सही प्रदर्शन के लिए सही पहचान बनाने का कार्य नहीं करती है।


ड्रैगनफ्लाई डोजी का निष्कर्ष

अंत में, ड्रैगनफ्लाई डोजी तेजी या मंदी के बाजार में बन सकती है। तेजी का परिप्रेक्ष्य अधिक महत्वपूर्ण है, और डाउनट्रेंड के बाद ड्रैगनफ्लाई डोजी का गठन आम तौर पर इसके अंत का संकेत देता है। ड्रैगनफ्लाई डोजी का गठन कीमतों के ओपन होने के समय में होता है जब बिकवाली अधिक होती है।

जैसे जैसे कीमतें नए स्तर पर गिरती हैं, खरीद उन्हें बार बार उपर ले जाती है जब तक कि वे ओपनिंग प्राइज तक नहीं पहुंच जाती। ट्रेडर यहां छोटी छोटी पोजीशन बनाना शुरू कर सकते हैं क्योंकि ट्रेडिंग सेंटिमेंट बदलने वाली है।

ट्रेडर्स को इस पर महत्वपूर्ण ध्यान देना है क्योंकि यह आसपास के क्षेत्र में एक जटिल पैटर्न के लिए जिम्मेदार हो सकता है।

यदि आप ऐसे ट्रेडिंग चार्ट पैटर्न या जेनेरिक स्टॉक मार्केट इन्वेस्टमेंट का उपयोग करके शुरुआत करना चाहते हैं, तो अगला कदम उठाने में हम आपकी सहायता कर सकते हैं:

यहां अपना विवरण दर्ज करें और आपके लिए एक कॉलबैक की व्यवस्था की जाएगी:

Summary
Review Date
Reviewed Item
ड्रैगनफलाई डोजी
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

12 − nine =