राउंडिंग बॉटम पैटर्न

बाकी चार्टिंग पैटर्न्स

राउंडिंग बॉटम पैटर्न (Rounding Bottom Pattern) दीर्घकालिक बदलाव को दिखाता है और साप्ताहिक चार्टों के लिए अधिक उपयुक्त है। ट्रेडर कभी-कभी इसे “सॉसर बॉटम पैटर्न” भी कह सकते हैं क्योंकि यह तश्तरी के आकार का होता है।

इस पैटर्न में आप एक बियरिश झुकाव वाले ट्रेंड को एक लंबे कोंसोलिडेशन पीरियड में बुलिश झुकाव में परिवर्तित होते देखते हैं। साप्ताहिक चार्ट, राउंडिंग बॉटम पैटर्न के लिए सबसे अनुकूल है क्योंकि इसमें लंबा कोंसोलिडेशन पीरियड मिल जाता है।


राउंडिंग बॉटम पैटर्न निर्माण

यह पैटर्न, किसी भी अन्य चार्टिंग पैटर्न की तरह एक बिंदु से अपनी यात्रा शुरू करता है जब तक कि यह पूरी तरह से बन नहीं जाता है और ट्रेडर्स और निवेशकों को दिखने लगता है। आइए जल्दी से यह समझने की कोशिश करें कि कैंडलस्टिक पैटर्न के पूरे चार्ट का निर्माण कैसे होता है।

Rounding Bottom Pattern


गिरती हुई बनावट

इस पैटर्न में पहले गिरती हुई बनावट दिखती है जो बाद में ऊपर की तरफ पलट जाती है। गोलाई के निचले पैटर्न का निचला बिंदु रिएक्शन की वजह से बने न्यूनतम बिंदु को दर्शाता है। यह न्यूनतम बिंदु हमेशा एक ही समय में नहीं बनता है, बल्कि बाकी पैटर्न का अवलोकन करता है।

पैटर्न के गठन से कई महीने पहले तक भी यह रिकॉर्ड किया जा सकता है जब तक कि सिक्योरिटी ट्रेडिंग पैटर्न के गठन से ठीक पहले सपाट न हो जाए। उस समय जब पैटर्न बनता है, पैटर्न का न्यूनतम बिंदु पिछले कुछ महीनों के दौरान बने न्यूनतम बिंदु से कम भी हो सकता है। पैटर्न की शुरुआत में गिरावट की प्रवृत्ति रहती है जो इसे पैटर्न के न्यूनतम बिंदु तक ले जाती है।

गिरती हुई बनावट में कभी-कभी कीमतों में  उतार और चढ़ाव की प्रतिक्रिया की एक श्रृंखला होती है जिसके कारण इसकी बनावट दांतेदार हो जाती है। कभी-कभी इसमें एक समतल बनावट होने की संभावना भी हो सकती है।


बढ़ती हुई बनावट

पैटर्न का दायीं तरफ का आधा ट्रेंड बढ़ती हुई बनावट में कैंडलस्टिक्स को दिखाता है और लगभग पूर्ववर्ती  पैटर्न के समान ही होता है।

वक्र के दूसरे हिस्से में बढ़त यदि बहुत तेज हो तो जरूरी नहीं है कि यह पैट्रन गोल ही बनेगा। जब पैटर्न उस उंचाई को पार कर जाता है जहां से यह गिरना शुरू हुआ था तो यह बुलिश ट्रेंड की कंनफर्मेशन की निशानी है।

यह पैटर्न अन्य बाधाओं के टूटने यानी रसिस्टेंस ब्रेकआउट के समान ही है और ब्रेकआउट का स्तर इसका समर्थन बिंदु यानी स्पोर्ट लेवल बन जाता है।

सिक्योरिटी का वॉल्यूम स्तर संपूर्ण ट्रेंड में राउंडिंग बॉटम पैटर्न के आकार को परिभाषित करता हैं। इसका मतलब यह है कि गिरावट की प्रवृत्ति की शुरुआत में ट्रेडिंग की मात्रा हाई होती है। गिरावट की समाप्ति कम वॉल्यूम को इंगित करती है, और बाकी ट्रेंड वॉल्यूम में क्रमिक वृद्धि के कारण बढ़ती प्रवृत्ति को दर्शाता है।

ब्रेकआउट में भी वॉल्यूम में वृद्धि ही दिखाई देती है।


अन्य पैटर्नों के साथ समानता

राउंडिंग बॉटम पैटर्न कुछ अर्थों में हैड एंड शोल्डर पैटर्न के समान है, इस अर्थ में कि यह हैड को तो दिखाता है, लेकिन शोल्डर्स को नहीं। पैटर्न का निचला भाग हैड एंड शोल्डर पैटर्न के गठन से मेल खाता है क्योंकि हैड पैटर्न के केंद्र में स्थित है।

अन्य समानताएं वॉल्यूम के वितरण, गिरावट की प्रवृत्ति और अग्रिम प्रवृत्ति के संदर्भ में मौजूद हैं। रसिस्टेंस ब्रेकआउट पर वॉल्यूम का स्तर भी एक तरह से हैड एंड शोल्डर पैटर्न की तरह बदल जाता है।

गोलाई का निचला पैटर्न उल्टे हैड एंड शोल्डर पैटर्न से अलग होता है क्योंकि इसका तल एक तश्तरी के रूप में दिखाई देता है, धीरे-धीरे लंबे समय तक विकसित होता है, और इसलिए, इसके तल पर वी-आकार नहीं दिखता है।

सॉसर बॉटम और हाफ पाईप बॉटम में गोलाई के निचले स्तर पर समानता दिखती है। कप एंड हैंडल पैटर्न में, ब्रेकआउट के ठीक पहले थोड़ी गिरावट देखी जाती है।


राउंडिंग बॉटम पैटर्न में ट्रेडिंग

राउंडिंग बॉटम पैटर्न उन लोगों के लिए आदर्श है, जो लंबी अवधि में मुनाफा कमाने में यकीन रखते हैं।

जो निवेशक धैर्य रखने में सक्षम हैं वे इस पैटर्न के साथ अच्छी कमाई करते हैं, क्योंकि कीमतों में बदलाव से पहले इस पैटर्न को  विकसित होने में समय लग सकता है। पैटर्न के बाएं-आधे हिस्से में गिरावट की धीमी दर रह सकती है। टर्नअराउंड के बाद भी अकसर बुलिश एरिया में क्रमिक वृद्धि होती है।

Rounding Bottom Pattern

कीमतों में  परिवर्तन की इस दर के परिणामस्वरूप ट्रेडर अक्सर पैटर्न के बाईं और दाईं ओर बनावट में समरूपता पाता है। धीरे-धीरे मंदी से तेजी के सेंटीमेंट में बदलाव आने में ज्यादा समय लगता है।

मंदी की प्रवृत्ति से तेजी की प्रवृत्ति की तरफ मूल्य में बदलाव राउंडिंग बॉटम पैटर्न की विशेषता है। ट्रेडिंग वॉल्युम की मात्रा इसकी सबसे मजबूत पुष्टि करती है। राउंडिंग बॉटम पैटर्न दुर्लभ है लेकिन इसमें सफलता की संभावना अधिक रहती है।

राउंडिंग बॉटम पैटर्न के साथ सफलतापूर्वक ट्रेड करने के लिए ट्रेडर  पहले पैटर्न की पहचान करता है और फिर नेकलाइन खींचता है। अगला कदम बॉटम के ब्रेकआउट की पुष्टि होता है।

इस पैटर्न में प्रवेश करने का सबसे अच्छा तरीका ब्रेकआउट पर खरीददारी के साथ है। ट्रेडर तब पैटर्न के बीच में एक स्टॉप-लॉस रखता है। ट्रेडर पैटर्न के आकार के बराबर समय के लिए खास प्राइस मूव में रहना चुन सकता है।


पैटर्न को पहचानना

ट्रेड वॉल्युम का उपयोग करके पैटर्न को आसानी से पहचाना जा सकता है। शुरुआत में हाई वॉल्युम, उसके बाद धीरे-धीरे गिरावट और फिर तेजी से पहले स्टॉक में कोंसोलिडेशन राउंडिंग बॉटम पैटर्न का हिस्सा हैं।

इस पैटर्न का मूल्यांकन आमतौर पर कैंडलस्टिक में दिखाए गए मूल्य पर वॉल्यूम लेवल के शीर्ष भाग को जोड़ने वाली रेखा खींचकर किया जाता है।


टार्गेट प्रॉफिट निर्धारित करना

इस पैटर्न में ट्रेडर्स ज्यादातर उम्मीद करते हैं कि मंदी की प्रवृत्ति के बाद तेजी दिखेगी। इसका मतलब है कि ट्रेडर्स और विश्लेषकों को उम्मीद होती है कि कीमतें नई ऊंचाई पर पहुंचेंगी। प्रॉफिट टार्गेट निर्धारित करना इस बात पर निर्भर करता है कि आप नई ऊँचाई तक पहुँचने के लिए कितनी दूर तक जाना चाहते हैं।

यह लगभग राउंडिंग बॉटम के आकार के बराबर होनी चाहिए।

Rounding Bottom Pattern

अपने प्रॉफिट टार्गेट निर्धारित करने के लिए आपका पहला कदम यह पता लगाना है कि पैटर्न की नेकलाइन कहां स्थित है। इस नेकलाइन को प्राप्त करने के लिए सबसे अच्छा तरीका यह है कि बियरिश ट्रेँड के शीर्ष पर एक रेखा खींचना और फिर ब्रेकआउट से पहले की तेजी के ट्र्रेँड के शीर्ष पर रेखा खींचना।

बाद में राउंडिंग बॉटम पैटर्न के सबसे निचले बिंदु और राउंडिंग बॉटम पैटर्न के नेकलाइन बीच की दूरी को मापा जाता है। जहां पर नेकलाइन पर हो रही हो वहीं पर लांग पोजिशन लेना सुरक्षित होता है। कुल मिलाकर, राउंडिंग बॉटम पैटर्न में हाई सफलता मिल सकती है।

कई अन्य ट्रेडिंग रणनीतियों का उपयोग राउंडिंग बॉटम पैटर्न के साथ किया जाता है। कई महीनों तक फैले फ्लैट पैटर्न का उपयोग करके और राउंडिंग टर्न की ओर जाते हुए एक शक्तिशाली ट्रेडिंग रणनीति बनाना संभव है।

सबसे अच्छा प्रदर्शन  इस पैटर्न में तब होता है जब ब्रेकआउट वार्षिक हाई प्राइस के एक तिहाई के भीतर होता है। राउंडिंग बॉटम पैटर्न फॉर्मेशन में ब्रेक आउट होने के बाद थ्रोबैक के कारण धक्का भी लग सकता है।


ट्रेडिंग में सफलता

राउंडिंग बॉटम पैटर्न के अच्छे प्रदर्शन के पीछे दो महत्वपूर्ण कारक इसकी बड़ी एवरेज हाई और इसके कम ब्रेक-ईवन रैंक हैं।

तकनीकी विश्लेषकों का अनुमान है कि इसकी ब्रेक-ईवन विफलता की दर केवल 5% है और बुल मार्किट में इसकी थ्रोबैक दर 40% है।

इसका समग्र प्रदर्शन 23 में से 5 आता है जो सैकड़ों पर्फैक्ट ट्रेड सिनेरियो के आधार पर सबसे अच्छा है।


राउंडिंग बॉटम पैटर्न का निष्कर्ष

अंत में राउंड बॉटम पैटर्न एक तरफा ट्रेँड भी दे सकता है और या ट्रेँड को पलट भी सकता है।

पैटर्न स्टॉक की कीमतों पर नियंत्रण को विक्रेताओं से खरीदारों की तरफ स्थानांतरित करता है। कई बार ट्रेडर्स को राउंड बॉटम रिवर्सल संकेत मिलते हैं जो मुख्य रूप से एक डाउनट्रेंड के करीब और अपट्रेँड के नजदीक दिखता है। उस बिंदु पर जहां कीमतें निचले स्तर के करीब होतीं हैं,  वहां एक छोटा डबल बॉटम पैटर्न बन सकता है या ट्रिपल बॉटम या हेड एंड शोल्डर पैटर्न भी बन सकता है।

यह पैटर्न ट्रेडर्स को खरीद करने और स्टॉप-लॉस के स्तर को बदलने की अनुमति देता है। 4: 1 की तक उच्च रिवार्ड टू रिस्क का रेशो सुनिश्चित करने के लिए ट्रेडर कीमतों में रिवर्सल के समय खरीदना शुरू कर सकता है और हाल ही के न्यूनतम स्तर से कम पर स्टॉप-लॉस रख सकता है।

यदि कोई ट्रेडर पारंपरिक ब्रेकआउट होने तक प्रतीक्षा करना चाहता है तो पैटर्न के निचले हिस्से के नीचे स्टॉप लॉस लगाना एक अच्छा विचार है। इस मामले में रिवार्ड टू रिस्क अनुपात 1: 1 के आसपास हो सकता है।

यदि आप ऐसे ट्रेडिंग चार्ट पैटर्न या जेनेरिक स्टॉक मार्केट इन्वेस्टमेंट का उपयोग करके शुरुआत करना चाहते हैं तो हम अगले चरण की तरफ बढ़ने में आपकी सहायता कर सकते हैं:

यहां अपना  विवरण दर्ज करें और हम आपके लिए कॉलबैक की व्यवस्था करेंगे:

Summary
Review Date
Reviewed Item
राउंडिंग बॉटम पैटर्न
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

1 × 1 =