आईआईएफएल कम्प्लेंट्स

ब्रोकर्स शिकायतों के अन्य लेख

आईआईएफएल सिक्योरिटीज को भारत में स्टॉक ब्रेकिंग की दुनिया में भरोसेमंद नामों में से एक के रूप में देखा जाता है।

हालांकि, ऐसे ग्राहक भी हैं जिन्हें कई बार अपेक्षित सेवा नहीं मिलती है। यहां इस त्वरित समीक्षा में, हम पिछले कई वर्षों में आईआईएफएल कम्प्लेंट्स के बारे में और उन शिकायतों की प्रकृति के बारे में बात करेंगे।

लेकिन पहले, आइए इस ब्रोकर के बारे में थोड़ा जानने की कोशिश करें।

आईआईएफएल या इंडिया इंफोलाइन भारत में एक फुल-सर्विस स्टॉकब्रोकर है और यह अपने त्वरित ग्राहक सेवा के लिए सब-ब्रोकर और फ्रैंचाइज़ कार्यालयों के माध्यम से अपने रिसर्च, ऑफ़लाइन उपस्थिति के लिए जाना जाता है।

आईआईएफएल या इंडिया इंफोलाइन अपेक्षाकृत उच्च ब्रोकरेज शुल्क लेता है।

आप इस संदर्भ के लिए विस्तृत आईआईएफएल ब्रोकरेज कैलकुलेटर की जांच कर सकते हैं।

ब्रोकर नाम इंडिया इंफोलाइन या आईआईएफएल
स्थापना  वर्ष 1995 में 
मुख्य कार्यालय मुंबई, महाराष्ट्र
पता आईआईएफएल सेंटर कमला सिटी, सेनापति बापट मार्ग, लोअर परेल (पश्चिम), मुंबई -400013
कम्प्लाइअन्स अधिकारी श्री आर. मोहन
कम्प्लाइअन्स अधिकारी ईमेल  complianceofficer @iifl.com

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज या एनएसई के नवीनतम रिकॉर्ड के अनुसार, आईआईएफएल के पास 2,02,782 सक्रिय ग्राहक आधार है।


 आईआईएफएल कम्प्लेंट्स की जानकारी

यहां पिछले कुछ वर्षों में इसके ग्राहक आधार द्वारा उठाई गई शिकायतों का त्वरित स्नैप-शॉट है, साथ ही प्रत्येक वित्तीय वर्ष में ब्रोकर द्वारा हल की गई शिकायतों की संख्या भी है।

जैसा कि ऊपर दिखाया गया है, यहां एक ही समय में ब्रोकर द्वारा प्राप्त और हल की गई शिकायतों का ब्रेक अप है :

  • वर्ष 2015 में, आईआईएफएल के पास 447 शिकायतें आयी थीं, और वह पूरी100% शिकायतों को हल करने में सफल हुए थे।
  • वर्ष 2016 में, आईआईएफएल के पास 220 शिकायतें आयी थीं,  और वह केवल 99% शिकायतों को हल करने में सफल हुए थे, जबकि शिकायतों का एक छोटा प्रतिशत हल होना अभी बाकी था।
  • वर्ष 2017 में, आईआईएफएल के पास 139 शिकायतें आयी थीं, और वह पूरी100% शिकायतों को हल करने में सफल हुए थे।
  • वर्ष 2018 में, आईआईएफएल के पास 138 शिकायतें आयी थीं, और वह पूरी 100% शिकायतों को हल करने में सफल हुए थे।
  • वर्ष 2019-20 में, आईआईईएल के पास 72 शिकायतें आयी थीं,  और वह अभी केवल 86.5% शिकायतों को हल करने में ही सफल हुए है , जबकि 11 शिकायतों को अभी भी हल किया जाना  बाक़ी है।

आईआईएफएल कम्प्लेंट्स ई मेल :

यदि आप आईआईएफएल की किसी भी सेवा के खिलाफ शिकायत दर्ज करना चाहते हैं, तो हम आपको पहले स्टॉकब्रोकर तक पहुंचने का सुझाव देंगे : customergrievances@iifl.com

यदि आपकी शिकायत अभी भी हल नहीं हुई है, तो आप किसी भी एक्सचेंज से संपर्क कर सकते हैं। उदाहरण के लिए :

बीएसई : mahesh.ghadi@bseindia.com

एनएसई : nseiscmum@nse.co.in

अंत में, यदि समस्या अभी भी आपकी उम्मीद के अनुसार हल नहीं हुई है, तो आप सेबी के साथ भी संपर्क कर सकते हैं।

sebi@sebi.gov.in


आईआईएफएल कम्प्लेंट्स स्टैटस 

यदि आप अपनी कंप्लेंट की स्थिति जानना चाहते हैं, तो जिस पार्टी से आपने शिकायत की है, उसके आधार पर आप एक रिमाइंडर भेज सकते हैं।

हालाँकि, यदि कोई पार्टी प्रतिक्रिया देने में विफल रहती है, तो आप उस ईमेल को जल्दी प्रतिक्रिया के लिए चेन में अगली पार्टी को फॉरवर्ड कर सकते हैं।


आईआईएफएल कम्प्लेंट्स बनाम इंडस्ट्री कम्प्लेंट्स

प्रति 10,000 ग्राहकों की शिकायतों की संख्या के मामले में जब ​इंडस्ट्री औसत के साथ इंडिया इंफोलाइन डीमैट खाता शिकायतों की तुलना करने की बात आती है, तो ब्रोकर ​इंडस्ट्री के औसत के खिलाफ कुछ ऐसे खड़ा होता है :

दूसरे शब्दों में बात करे तो, इंडिया इंफोलाइन को लगभग आधी शिकायतें मिलती हैं, जहां तक इंडस्ट्री के  मानकों का सवाल  है, इंडिया इंफोलाइन को अपने सक्रिय क्लाइंट बेस के 0.06% क्लाइंटो से शिकायतें मिल रही हैं, जबकि इंडस्ट्री का औसत 0.11% है।

यदि आपके पास ब्रोकर के साथ कोई अच्छा या बुरा अनुभव है, तो नीचे दिए गए कमेंट सेक्शन में साझा करने के लिए स्वतंत्र महसूस करें और अपने साथी ट्रेडरो को इंडिया इंफोलाइन के साथ एक स्टॉकब्रोकर के रूप में आगे बढ़ना है या नहीं निर्णय लेने में मदद करें।


अंत में, यदि आप किसी भी तरह के स्टॉक ब्रोकर के सुझाव की तलाश कर रहे हैं, तो आप नीचे दिए गए फॉर्म में हमें अपना विवरण प्रदान करें।

इसके बाद हमारे द्वारा आपके लिए एक कॉलबैक की व्यवस्था कर दी जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

10 + 7 =