Auto Square Off Charges in Groww in Hindi

इंट्राडे ट्रेडिंग के अन्य लेख

Groww kya hai और इस ब्रोकर के साथ लगने वाले इंट्राडे ट्रेडिंग ब्रोकरेज और अन्य शुल्क (Groww intraday charges in hindi) की जानकारी सभी ट्रेडर रखते है लेकिन क्या आप जानते है की इसके साथ ऑटो स्क्वायर ऑफ चार्ज भी होते है। आइये जानते है कि auto square off charges in Groww in hindi क्या है और ये शुल्क कब देना होता है।

Groww में ऑटो स्क्वायर ऑफ शुल्क क्या है?

Groww एप में ऑटो स्क्वायर ऑफ चार्ज को समझने से पहले इंट्राडे ट्रेडिंग की प्रक्रिया को समझते है। इंट्राडे ट्रेडिंग में आप एक ही दिन के अंदर पोजीशन को खोलते और बंद (स्क्वायर ऑफ) करते है, सरल भाषा में अगर आपने किसी कंपनी के शेयर ख़रीदे है तो मार्केट बंद होने से पहले उसे बेचते है।

अब हर एक ब्रोकर का स्क्वायर ऑफ टाइम अलग-अलग है। Groww का स्क्वायर ऑफ टाइम 3:20 PM है। अब अगर आपने इंट्राडे पोजीशन ली है लेकिन समय से पहले उसे बंद करना भूल जाते है तो ब्रोकर का सिस्टम खुद आपकी पोजीशन स्क्वायर ऑफ (square off meaning in hindi) कर देता है।

अब ऐसे में आपको इंट्राडे ब्रोकरेज के साथ ऑटो स्क्वायर ऑफ शुल्क भी देना होता है।

Auto Square off charge in Groww in hindi ₹50 प्रति पोजीशन है। इसके अतिरिक्त इस पर 18% GST भी चार्ज की जाती है।

 

अब कई बार ब्रोकर के स्क्वायर ऑफ करने पर पोजीशन से आपको नुकसान होता है और साथ ही ऑटो स्क्वायर ऑफ चार्ज आपके Groww एप शुल्क (Groww app charges in hindi) को भी कई गुना तक बढ़ा देता है।


निष्कर्ष 

ऑटो स्क्वायर ऑफ चार्ज एक तरह की पेनल्टी है जो ब्रोकर आपसे तब लेता है जब आप इंट्राडे में ओपन पोजीशन को स्क्वायर ऑफ करना भूल जाते है। इस तरह के अतिरिक्त शुल्क से बचने के लिए Groww के स्क्वायर ऑफ टाइम से पहले अपनी पोजीशन को क्लोज करना न भूले।

इसके साथ अगर आपको शेयर मार्केट में निवेश करने के शुरुआत करने के लिए सही स्टॉक ब्रोकर का चुनाव करना है तो अभी नीचे दिए गए फॉर्म में अपना विवरण भरे। हमारी टीम आपको संपर्क करेगी और ब्रोकर के चुनाव के साथ आप डीमैट खाता खोलने में मदद करेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

2 × five =