लोढ़ा डेवलपर्स आईपीओ प्राइस

अन्य IPO का विश्लेषण

लोढ़ा डेवलपर्स आईपीओ, शेयर मार्केट में जल्द ही आने वाला है। क्या आप इस आईपीओ को जानने के लिए उत्सुक हैं? यदि हाँ, तो आपको लोढ़ा डेवलपर्स आईपीओ प्राइस के बारे में जानना चाहिए।

देश का सबसे बड़ा आवासीय डेवलपर, माइक्रोटेक ₹2500 करोड़ का आईपीओ लाने जा रहा है।

लोढ़ा डेवलपर्स का आईपीओ 7 अप्रैल 2021 को खुलेगा और 9 अप्रैल 2021 पर बंद हो जाएगा।

यहाँ हम आपको इस आईपीओ के इश्यू प्राइस, जीएमपी आदि पर पूरी जानकारी प्रदान करेंगे।


लोढ़ा डेवलपर्स आईपीओ का इश्यू प्राइस

अब, मैक्रोटेक डेवलपर्स आईपीओ (लोढ़ा ग्रुप) के इश्यू साइज़, फ्रेश इश्यू, ऑफर फॉर सेल आदि के बारे में नीचे टेबल दिया गया है:

 


लोढ़ा डेवलपर्स आईपीओ का प्राइस बैंड

यदि आपको लोढ़ा डेवलपर्स आईपीओ प्राइस के बारे में जानकारी स्पष्ट है तो अब मैक्रोटेक डेवलपर्स आईपीओ के प्राइस बैंड के बारे में जानते हैं।

 


लोढ़ा डेवलपर्स आईपीओ का लिस्टिंग प्राइस

इस फर्म द्वारा लोढ़ा डेवलपर्स आईपीओ का लिस्टिंग प्राइस अभी घोषित नहीं किया गया है। जब भी इसका खुलासा होगा, इसे (●) पर अपडेट किया जाएगा।

इसके लिए यहाँ बने रहें।


लोढ़ा डेवलपर्स आईपीओ का जीएमपी

यदि आप GMP के बारे में जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं, तो इस सेगमेंट में हम लोढ़ा डेवलपर्स आईपीओ के जीएमपी को कवर करेंगे।

सरल शब्दों में कहें तो, शेयर बाजार में सूचीबद्ध होने से पहले, जिस प्रीमियम राशि पर आईपीओ के शेयरों का ट्रेड किया जाता है, उसे ग्रे मार्केट प्रीमियम के रूप में जाना जाता है।

नोट: ये शेयर आधिकारिक रूप से शेयर मार्केट में ट्रेडिंग के लिए उपलब्ध नहीं हैं।

नीचे दिए गए IPO के GMP और Kostak पर एक नज़र रखने के लिए नीचे एक टेबल दिया गया है।

 

अभी तक लोढ़ा डेवलपर्स आईपीओ से सम्बंधित ग्रे मार्केट में कोई गतिविधि नहीं देखी गई है।


क्या आपको लोढ़ा डेवलपर्स आईपीओ में निवेश करना चाहिए?

पिछले 7 साल के कलेक्शन और सेल्स लगभग ₹50 हजार करोड़ के आसपास है, जो इस कंपनी को ₹2500 करोड़ का आईपीओ लाने के लिए प्रोत्साहित करता है।

यह फर्म अपने ₹1500 करोड़ के डेब्ट को क्लियर करना चाहती है और ₹375 करोड़ को भूमि और सामान्य कॉर्पोरेट उद्देश्यों को प्राप्त करने के लिए करेगी।

आईपीओ के माध्यम से धन जुटाने के लिए यह कंपनी की तीसरी कोशिश है।

सितंबर 2009 में, फर्म ने लगभग ₹2,800 करोड़ का DRHP भरा था और जनवरी 2010 में इसे सेबी से मंजूरी मिली।

लेकिन बाजार की प्रतिकूल परिस्थितियों के कारण अपनी आईपीओ की योजना को बंद कर दिया था।

आईपीओ में निवेश करने से पहले कंपनी के हर एक पहलू को समझना आवश्यक है।

इसलिए, यह समय रिसर्च करके सही निर्णय लेने का है।

हमें उम्मीद है कि लोढ़ा डेवलपर्स आईपीओ प्राइस से सम्बंधित आपके सभी सवाल हल हो गए होंगें।


यदि आप आईपीओ में निवेश करना चाहते हैं तो सबसे पहले डीमैट खाता खोलें:

डीमैट खाता खोलने के लिए नीचे दिए गए फॉर्म को देखें:

यहाँ अपना बुनियादी विवरण भरें और उसके बाद आपके लिए कॉलबैक की व्यवस्था की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

11 + 14 =