Three Black Crows Candlestick Pattern in Hindi

बाकी चार्टिंग पैटर्न्स

आपने कौए तो देखें ही होंगे, ज़्यादातर लोग कौए के आस पास होना अच्छा संकेत नहीं मानते और कुछ इस प्रकार शेयर मार्केट में भी होता है जहाँ पर कैंडलस्टिक पैटर्न 3 ब्लैक क्रोस मार्केट में में मंदी लाने के लिए जाने जाते है।  । आइये जानते है की ये तीन काले कौओं वाला पैटर्न (three black crows candlestick pattern in hindi) क्या है।

Three Black Crows Candlestick Pattern Meaning in Hindi 

अगर मार्केट में एक लम्बे अपट्रेंड के बाद रेजिस्टेंस के पास तीन बड़ी बियरिश कैंडलस्टिक बनती है तो इस पैटर्न को 3 black crow pattern कहा जाता है। ये मार्केट में सेलर्स यानी की बायर के दबाव को दर्शाता है। जब ये पैटर्न बनता है तो माना जाता है की मार्केट ओवरबोट जोन में है और मार्केट अब बायर्स यानी खरीददारों के हाथों से निकल रही है।

आइये हम एक चित्र कि मदद से समझते है।

 

आप देख रहे है की यहाँ तीन बियरिश कैंडलस्टिक बनी हुई है और हर कैंडल अपनी पिछली कैंडल के नीचे क्लोज हो रही है। इसे ही Three Black Crows Pattern कहा जाता है। ये अलग अलग तरीकों से बन सकती है पर होती ये तीनों बियरिश कैंडल ही है। 


Three Black Crows Candlestick Pattern को कैसे पहचानें?

शेयर मार्केट चार्ट में Three black crows pattern की पहचान करना बहुत ही आसान है, जब भी अपट्रेंड चल रहा होता है तो कुछ कारणों की वजह से मार्केट में तेजी से सेलर्स का दबाव बढ़ जाता है और बायर्स मार्केट में अपना दबाव खोने लगते है तब ये पैटर्न बनता है।

इस कैंडलस्टिक पैटर्न इन हिंदी में पहचान करने के लिए आपको लगातार बनी तीन बियरिश कैंडलस्टिक देखनी होती है। जो की अपनी हर एक कैंडल के क्लोज के नीचे ही क्लोज होती है। जैसा की हमने ऊपर चित्र में देखा की कैंडल B कैंडल A के क्लोज की नीचे ही क्लोज हो रही है और कैंडल C कैंडल B के क्लोज के नीचे ही क्लोज हो रही है।

कैंडल के साइज़ से पैटर्न पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता पर मार्केट में तेजी से गिरावट दर्ज होती हुई दिखाई देनी चाहिए, और तीनों कैंडलस्टिक के बीच में कोई डोजी या अन्य कैंडल नहीं बननी चाहिए और ना ही कोई बुलिश कैंडल बननी चाहिए। जैसा की ऊपर चित्र में दर्शाया गया है।


Three Black Crows Pattern को कैसे ट्रेड करें?

थ्री ब्लैक क्रो कैंडलस्टिक से ट्रेड पोजीशन लेने के लिए आपको कुछ नियमों का ध्यान रखना होगा जिससे इस पैटर्न को ट्रेड करने पर आपको बेहतर मुनाफा हो सकता है।

  1. Three Black Crows Pattern अपट्रेंड में बनता है और इसके बाद मार्केट में गिरावट दर्ज होना शुरू होती है।
  2. ये पैटर्न केवल तीन बियरिश कैंडलस्टिक से मिलकर बनता है।
  3. इस पैटर्न में तीनों कैंडलस्टिक बियरिश ही होती है, और इनकी बनावट अलग-अलग हो सकती है।
  4. तीनों कैंडलस्टिक अपनी पिछली कैंडल की क्लोजिंग के नीचे ही क्लोज होती है।
  5. इस पैटर्न की मदद से हम केवल मंदी की दिशा में ही सोदा ले सकते है, यानी की हम शोर्टिंग करके मुनाफा अर्जित करने के लिए अपना सोदा बना सकते है।
  6. ये पैटर्न अकेले ट्रेड नहीं किया जा सकता है, इसे ट्रेड करने के लिए आपको टेकनिकल अनालिसिस के कुछ टूल्स और शेयर मार्केट इंडिकेटर (share market indicator in hindi) का इस्तेमाल करना पड़ेगा नहीं तो आपको नुकशान झेलना पड़ सकता है।

Three Black Crows Pattern Trading Strategy in Hindi 

Three Black Crows Candlestick Pattern को ट्रेड करने का तरीका बहुत ही साधारण है। सबसे पहले हमें देखना होता है की हमारा ट्रेडिंग एसेट अपट्रेंड में चल रहा है उसके बाद हमें थ्री ब्लैक क्रो कैंडलस्टिक पैटर्न की पहचान करनी होती है।

उसके बाद हम टेकनिकल अनालिसिस की नियम के आधार पर अकेले किसी भी पैटर्न को ट्रेड नहीं करना चाहिए तो हम Relative Strength Index (RSI indicator in hindi) की मदद लेंगे और उसमें हम Divergence देखेंगे।

आप नीचे दिए INDRAPRASTHA GAS के चार्ट में देख सकते है. अपट्रेंड चल रहा है और उसके बिलकुल ऊपर जाने पर RSI इंडिकेटर नीचे आना शुरू हो गया है। ये एक पहले से ही मिला सिग्नल है की ट्रेंड अब कमजोर हो रहा है और उसके तुरंत बाद थ्री ब्लैक क्रो कैंडलस्टिक पैटर्न बन गया।

अब हमारे पास दो प्रकार की अलग-अलग स्टडी से कन्फर्मेशन मिल गया की ट्रेंड अब मंदी में जाना शुरू होगा और हम अपना सोदा सेल साइड में बनाएँगे।

जब भी मार्केट थ्री ब्लैक क्रो कैंडलस्टिक पैटर्न के नीचे ट्रेंड करने लगेगी तो आप शेयर में शार्ट पोजीशन ले सकते है या अपनी लॉन्ग पोजीशन से निकल सकते है। इसके साथ आप थ्री ब्लैक क्रो कैंडलस्टिक पैटर्न के हाई पर अपना स्टॉप लोस (stop loss meaning in hindi) रख अपने जोखिमों को कम कर सकते है।


निष्कर्ष

ट्रेड करने के लिए टेकनिकल अनालिसिस सबसे बेहतर माना गया है और उसमें सबसे ज्यादा तवज्जो कैंडलस्टिक पैटर्न को दी जाती है। कैंडलस्टिक पैटर्न हमें मार्केट को समझने में मदद तो करते ही है वो सही समय पर सोदा बनाने और बेचने में भी मदद करते है।

टेकनिकल अनालिसिस में कैंडलस्टिक पैटर्न के आलावा भी कई अन्य तरीके मोजूद है जिनकी मदद से ट्रेडर्स काफी अच्छा मुनाफा अर्जित करते है, जैसे की डाओ थ्योरी, ट्रेंडलाइन्स, सपोर्ट और रेजिस्टेंस इत्यादि।

एक ट्रेडर को केवल एक पैटर्न के सहारे रहने की बजाए पूरे टेक्निकल एनालिसिस को अच्छे से समझना चाहिए।

यदि आप शेयर मार्केट ट्रेडिंग के साथ शुरुआत करना चाहते हैं, तो बस नीचे दिए गए फॉर्म में कुछ बुनियादी विवरण भरें।

आपके लिए एक कॉलबैक की व्यवस्था की जाएगी:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

twelve + ten =