Types of Equity Shares in Hindi

शेयर मार्केट के अन्य लेख

इक्विटी शेयर कई निवेशकों के लिए एक लोकप्रिय निवेश का विकल्प है। इसमें निवेश कर निवेशकों को उस कंपनी में स्वामित्व प्राप्त होता है जिससे वह कई तरह के लाभ कमा सकते है। लेकिन इन इक्विटी शेयर के कई प्रकार होते है तो आइये जानते है types of equity shares in hindi.

स्टॉक मार्केट में शेयर कितने प्रकार के होते है जानने से पहले समझते है कि इक्विटी शेयर क्या होता है।

Equity Shares Meaning in Hindi 

इक्विटी शेयर एक लॉन्ग-टर्म निवेश का विकल्प है जो कम्पनीज पूँजी एकत्रित करने के लिए स्टॉक मार्केट में इशू करती है। इक्विटी शेयर इशू होने से कंपनी के स्वामित्व कम होता है और निवेशकों को कंपनी में निवेश कर आंशिक स्वामित्व प्राप्त करने का का अवसर मिलता है, जिसके साथ वह भी कंपनी के शेयरहोल्डर की सूची में शामिल हो जाते है।

इक्विटी शेयर में निवेश करने से शेयरहोल्डर को पूँजी के मूल्य वृद्धि और डिविडेंड से हाई रिटर्न कमाने का मौका मिलता है, इसके साथ निवेशकों को मौद्रिक लाभ (monetary benefits) जैसे की वोटिंग राइट भी प्राप्त होते है।


इक्विटी शेयर के प्रकार 

इक्विटी शेयर के प्रकार (types of equity shares in hindi) की बात की जाए तो वह 4 प्रकार के होते है:

  • ordinary shares
  • preference shares
  • right shares
  • bonus shares

आइये इन सबकी विशेषताएं और लाभ को जाने।

Ordinary Shares in Hindi  

साधारण शेयर, जिसे सामान्य शेयर भी कहा जाता है, एक कंपनी के शेयरों के रूप में परिभाषित किया जाता है जो शेयरधारकों को कंपनी की बैठक में वोट देने का अधिकार देता है और कंपनी के मुनाफे से लाभांश के रूप में आय भी देता है।

एक निवेशक के स्वामित्व वाले साधारण शेयरों की संख्या कंपनी में उसके स्वामित्व के प्रतिशत के अनुपात में होती है।

उदाहरण के लिए, यदि कोई कंपनी शेयर बाजार में अपने सभी 50 शेयर जारी करती है और आप उनमें से 30 के मालिक हैं। आपके पास कंपनी का 60% स्वामित्व होगा।

साधारण शेयर कई प्रकार के लाभों के साथ आते हैं। आपको न केवल शेयरधारकों से संबंधित विभिन्न मामलों पर कंपनी की बैठकों में वोट देने का अधिकार है, बल्कि आप कंपनी के प्रदर्शन के आधार पर लाभांश यानी की डिविडेंड से पैसिव इनकम भी कमा सकते है।

साथ ही, सामान्य शेयरों में परिपक्वता तिथि नहीं होती है। इसका अर्थ है कि कंपनी में आपका स्वामित्व तब तक अप्रभावित रहता है जब तक कि कंपनी स्वयं को असूचीबद्ध करने का निर्णय नहीं लेती है या जब कोई अन्य कंपनी अधिग्रहण नहीं करती है।

कॉमन शेयर्स के लाभ

  • निवेशक भविष्य में बढ़ने की क्षमता रखने वाली कंपनियों में साधारण शेयरों में अपना पैसा निवेश करके रिटर्न कमाते हैं।
  • निवेशकों को उस कंपनी से लाभांश प्राप्त होता है जिसमें उन्होंने त्रैमासिक, मासिक या वार्षिक रूप से निवेश किया है। डिविडेंड इनकम पैसिव इनकम कमाने का एक शानदार तरीका है।
  • साधारण शेयरों का स्वामित्व आपको कंपनी में स्वामित्व का हिस्सा देता है। साधारण शेयरधारकों को कंपनी की वार्षिक आम बैठक के समय वोट देने का अधिकार मिलता है और उन्हें वोट देकर निदेशक मंडल चुनने का अधिकार मिलता है।

Preference Shares in Hindi 

प्रीफरेंस शेयर्स एक विशेष शेयर विकल्प है जो शेयरधारकों को इक्विटी शेयरधारकों से पहले कंपनी द्वारा घोषित लाभांश प्राप्त करने में सक्षम बनाता है।

प्रीफेरेद शेयर शेयरधारकों को कंपनी के जीवनकाल के दौरान लाभांश (dividend) का दावा करने का विशेष अधिकार प्रदान करते हैं, और कंपनी के बंद होने की स्थिति में पूंजी के पुनर्भुगतान का दावा करने का विकल्प भी प्रदान करते हैं।

इसे हाइब्रिड शेयर विकल्प माना जाता है क्योंकि यह डेब्ट और इक्विटी निवेश दोनों की विशेषताओं का प्रतिनिधित्व करता है। प्रीफेरेद शेयर जारी करके जुटाई गई पूंजी को प्रीफेरेद शेयर पूंजी के रूप में जाना जाता है और प्रीफरेंस शेयरधारकों को कंपनी का मालिक माना जा सकता है।

हालांकि, इक्विटी शेयरधारकों के विपरीत, उन्हें किसी भी प्रकार के वोटिंग अधिकार प्राप्त नहीं हैं।

इक्विटी शेयर और प्रीफरेंस शेयर में काफी अंतर है जिसका उल्लेख difference between equity shares and preference shares in hindi में किया गया है

प्रीफेरेड शेयर्स के लाभ

  • डिविडेंड का भुगतान पहले प्रीफेरेड शेयरधारकों को किया जाता है।
  • प्रीफेरेड शेयरधारकों का व्यावसायिक संपत्तियों पर पूर्व दावा होता है

Right Shares in Hindi 

राइट शेयर्स उन शेयरों के इश्यू को संदर्भित करता है जो एक कंपनी अपने मौजूदा शेयरधारको को कम मूल्य में ऑफर करती है। कंपनी के शेयरधारक प्रस्ताव को स्वीकार या अस्वीकार करने का अधिकार रखते है।

अगर शेयरधारक इनमे निवेश करते है तो उन्हें एक न्यूनतम मात्रा में इस इशू के लिए आवेदन करना होता है। 

कंपनी प्रत्येक शेयरधारक को अधिकार जारी करने के संबंध में सूचित करती है जिसमे शेयरधारकों को निर्धारित समय के भीतर नोटिस का जवाब देना होता है हालाँकि, उनके पास या तो पूरी तरह से या आंशिक रूप से राइट शेयर में सब्सक्राइब या आवहेलना करने का विकल्प होता है। 

Rights Shares के लाभ

  • रियायती मूल्य पर शेयरहोल्डर की हिस्सेदारी को बढ़ाता है।
  • राइट्स शेयर्स इशू होने से मौजूदा शेयरों के मूल्य में कोई कमी नहीं आती।
  • पूरा नियंत्रण मौजूदा शेयरधारकों के हाथों में ही रहता है।

Bonus Shares in Hindi 

बोनस शेयर कंपनी द्वारा मौजूदा शेयरधारकों को मुफ्त में दिए जाने वाले अतिरिक्त शेयर होते हैं। तरलता आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए शेयरधारक इन शेयरों को स्टॉक मार्केट में खरीद और बेच सकते हैं।

ऐसी कुछ स्थितियाँ होती हैं जब एक लाभदायक टर्नओवर होने के बावजूद, लिक्विड फंड की संभावित कमी के कारण कंपनी नकद में लाभांश का भुगतान करने में असमर्थ होती है। ऐसे मामलों में, कंपनी नकद में लाभांश का भुगतान करने के बजाय मौजूदा शेयरधारकों को बोनस शेयर जारी करती है।

कई बार लिक्विड फण्ड की कमी न होने पर भी कंपनियां बोनस शेयर जारी करती हैं जिससे वह डिविडेंड डिस्ट्रीब्यूशन टैक्स से बच सके।

क्योंकि बोनस शेयर कंपनी की पूँजी को शेयर कैपिटल में परिवर्तन किया जाता है इसलिए बोनस शेयर इशू करने पर मुनाफे का ‘पूंजीकरण’ होता है।

बोनस शेयर जारी करने के लिए कंपनी शेयरधारकों से शुल्क नहीं ले सकती है और इसलिए जो राशि बोनस इश्यू के मूल्य के बराबर होती है उसे लाभ या रिजर्व के विरुद्ध समायोजित किया जाता है, और फिर इक्विटी शेयर कैपिटल अकाउंट में स्थानांतरित कर दिया जाता है।

बोनस शेयर्स के लाभ

  • बोनस शेयर प्राप्त करने पर निवेशकों को कोई कर देने की आवश्यकता नहीं होती है।
  • जिन निवेशकों ने लम्बी अवधि के लिए निवेश किया है उनके लिए बोनस शेयर उनका निवेश बढ़ाने में लाभदायक होते है।
  • बोनस शेयर बकाया शेयरों को बढ़ाते हैं जो बदले में स्टॉक की तरलता को बढ़ाता है।

निष्कर्ष

Types of Equity shares में चार तरह के शेयर्स की जानकारी दी गयी है जो आपको मार्केट में मौजूदा होल्डिंग या नए निवेश से होने वाले फायदों की जानकारी प्रदान करता है

इन सभी शेयर्स की विशेषताएं और लाभ की जानकारी ले आप स्टॉक मार्केट में निवेश कर सकते है


अगर आपने अभी तक स्टॉक मार्केट में निवेश नहीं किया है तो अभी शुरुआत करे और नीचे दिए गए फार्म में अपना विवरण भरे।

हम आपको एक सही स्टॉकब्रोकर चुनने में और डीमैट खाता निःशुल्क खोलने में मदद करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

7 + 8 =