SBI Card Ka IPO

अन्य IPO का विश्लेषण

एसबीआई कार्ड

8.8

कंपनी बैकग्राउंड

9.0/10

प्राइस बैंड

8.0/10

वित्तीय स्थिति

9.0/10

उद्योग में स्थिति

9.0/10

IPO का इस्तेमाल

9.0/10

Pros

  • लोकप्रिय कंपनी
  • सरकार द्वारा फंड किया गया
  • बेहतर वित्तीय स्थिति

Cons

  • भविष्य में क्रेडिट कार्ड की सामान्य वृद्धि

क्या आप आईपीओ (IPO) में निवेश करने की योजना बना रहे है? तो हो जाइए तैयार, क्योंकि अगले सप्ताह SBI कार्ड्स का आईपीओ आने वाला है। इसलिए, यदि आप SBI कार्ड में निवेश करना चाहते है, तो आपको इसके बारे में पूरी जानकारी होना जरुरी है। 

इस लेख में हमने एसबीआई कार्ड आईपीओ का विस्तृत विश्लेषण, इसके आईपीओ की तारीख, कैसे आवेदन करना या कैसे खरीदना है और एक्सपर्ट की राय आदि पर विस्तार से चर्चा किया है। 

SBI Card Ka IPO Details in Hindi (एसबीआई कार्ड का आईपीओ की पूरी जानकारी) 

एसबीआई कार्ड्स एंड पेमेंट सर्विसेज लिमिटेड, SBI की एक सहायक कंपनी है। इसे वर्ष 1998 में शामिल किया गया था। यह अगले सप्ताह पूँजी बाजार में दस्तक देने वाली है।

वर्तमान में, SBI कार्ड का बाजार में लगभग 18% हिस्सेदारी है, जो इसे देश में दूसरा सबसे बड़ा क्रेडिट कार्ड जारी करने वाला कंपनी बनाती है। एक रिपोर्ट के अनुसार, एसबीआई कार्ड के 95 लाख अनुमानित ग्राहक है। 

एसबीआई एक सामान्य व्यक्ति से लेकर कॉर्पोरेट ग्राहकों को कार्ड जारी करता है, जिसमें लाइफस्टाइल, रिवॉर्ड, शॉपिंग, ट्रैवल, फ्यूल, बैंकिंग पार्टनरशिप इत्यादि सहित क्रेडिट कार्ड की विस्तृत सेवाएं  शामिल है।

ये भी पढ़े: एलआईसी आईपीओ

आईपीओ के लिए, एसबीआई कार्ड ने 27 नवंबर, 2019 को सेबी के पास ड्राफ्ट रेड हेरिंग प्रॉस्पेक्टस (डी.आर.एच.पी.) दायर किया था।

ड्राफ्ट रेड हेरिंग प्रॉस्पेक्टस के अनुसार, SBI कार्ड्स लगभग 9,000 करोड़ का आईपीओ पेश करने जा रहा है, जो 02 मार्च, 2020 से 5 मार्च 2020 तक खुला रहेगा।

नीचे दिए गए तालिका में, SBI कार्ड आईपीओ के महत्वपूर्ण तथ्यों को बताया गया है: 

पिछले साल दायर ड्राफ्ट के मुताबिक, कंपनी ऑफर फॉर सेल के जरिये 13,05,26,798 इक्विटी शेयर की पेशकश करेगी।

एसबीआई कार्ड में 76% हिस्सेदारी SBI की है और शेष 24% हिस्सेदारी कार्लाइल ग्रुप के पास है। इसलिए, इक्विटी शेयर में SBI द्वारा 3,72,93,371 और कलाईल ग्रुप द्वारा 9,32,33,427 शेयर शामिल होंगे।

इसके साथ ही, कंपनी 500 करोड़ रूपये के फ्रेश इक्विटी शेयर भी जारी करेगी। 

एसबीआई कार्ड आईपीओ के लिए मूल्य सीमा को ध्यान में रखते हुए, इसे ₹750-755 प्रति शेयर पर तय किया गया है।

एसबीआई कार्ड आईपीओ लॉट साइज या सब्सक्राइब किए जाने वाले शेयरों की न्यूनतम संख्या को 19 शेयरों पर तय किया गया है।

इस आईपीओ के लिए 18,64,669 शेयर कंपनी के कर्मचारियों के लिए और SBI के शेयरधारकों के लिए 1,30,52, 680 आरक्षित किया गया हैं।

इसके अलावा, SBI रेगुलेटरी फाइलिंग में पात्र कर्मचारियों को ₹75 प्रति शेयर की डिस्काउंट प्रदान करेगा।

इस आईपीओ के प्रबंधन की जिम्मेदारी निम्न संस्थानों को दी गई है:

  • बैंक ऑफ अमेरिका सिक्योरिटीज
  • ऐक्सिस बैंक
  • कोटक महिंद्रा  कैपिटल 
  • एचएसबीसी (HSBC)
  • नोमुरा फाइनेंसियल एडवाइजरी
  • डीएसपी मैरिल लिंच 
  • एसबीआई कैपिटल मार्केट्स 

वॉल स्ट्रीट जर्नल की रिपोर्ट के अनुसार, एसबीआई कार्ड के शेयर बीएसई (बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज) में 16 मार्च को सूचीबद्ध होने की उम्मीद है।

एसबीआई कार्ड का आईपीओ की तारीख (SBI Card IPO Date Hindi)

अब बात करते है एसबीआई कार्ड के आईपीओ कब आएगा, कितने तारीख को ख़त्म होगा और अन्य महत्वपूर्ण तिथियों के बारे में।

एसबीआई कार्ड के आईपीओ 02 मार्च, 2020 को शुरू होने जा रहा है, जो 05 मार्च, 2020 को समाप्त हो जाएगी।

नीचे तालिका में, एसबीआई कार्ड आईपीओ तिथि की पूरी जानकारी दी गई है।


एसबीआई कार्ड का आईपीओ की आवंटन तिथि (Allotment Date)

एसबीआई आईपीओ को 11 मार्च, 2020 तक अंतिम रूप दिया जाएगा, जिसके बाद 13 मार्च, 2020 तक संबंधित डीमैट खाते में शेयरों को क्रेडिट किया जाएगा।

आप आवंटन का आधार से यह पता लगा सकते है कि SBI कार्ड IPO में आपको शेयर कैसे आवंटित किया जाएगा। साथ ही, इसमें आपको IPO शेयर के हर केटेगरी में डिमांड की जानकारी भी प्रदान करेगा।

एसबीआई कार्ड आईपीओ लिस्टिंग डेट

एसबीआई कार्ड के शेयर बीएसई (बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज) और एनएसई (नेशनल स्टॉक ऑफ़ एक्सचेंज) पर सूचीबद्ध होंगे। इसकी लिस्टिंग के साथ, शेयरों की ट्रेडिंग शुरू हो सकती है, जिससे निवेशकों को सेकेंडरी मार्केट में कंपनी के शेयर खरीदने या बेचने में मदद मिल सकती है।

रिपोर्ट के अनुसार, एसबीआई कार्ड आईपीओ 16 मार्च, 2020 तक लिस्टेड होगा।


एसबीआई कार्ड का आईपीओ के आवेदन की प्रक्रिया (How to Apply SBI Card IPO in Hindi)

एसबीआई कार्ड के आईपीओ के आवेदन प्रक्रिया को समझना भी जरुरी है। इसलिए, नीचे आवेदन की प्रक्रिया को चरणबद्ध तरीकें से समझाया गया है। आप इस प्रक्रिया को समझ कर आसानी से आईपीओ के लिए आवेदन कर सकते हैं।

एसबीआई कार्ड आईपीओ ऑनलाइन (SBI Card IPO Online in Hindi)

अब हर निवेशक के लिए ऑनलाइन प्रक्रिया आने के बाद आईपीओ के लिए आवेदन करना आसान हो गया है। क्योंकि आप UPI के माध्यम से भी IPO में अप्लाई कर सकते हैं। 

एसबीआई कार्ड आईपीओ के आवेदन करने के लिए आप बैंक से संपर्क कर सकते हैं जो ए.एस.बी.ए. (ASBA) की सुविधा प्रदान करता है। इसके अलावा, आप अपने ब्रोकर के द्वारा डीमैट खाता खुलवा कर आवेदन कर सकते है। 

ASBA एक एप्लीकेशन है जो ब्लॉक की गई राशि द्वारा समर्थित है। यह IPO के लिए आवेदन करने का एक आसान और कुशल तरीका प्रदान करता है।

यदि आप ASBA के माध्यम से आईपीओ में निवेश करना चाहते है तो आपके खाते में उतना पैसा ब्लॉक हो जाएगा। इसके बाद, आपके बैंक खाते से पैसे तभी डेबिट किया जाएगा जब आईपीओ में शेयर आवंटित किए जाएंगे।

यह आपको कुछ फायदे भी देता है, क्योंकि आप ब्लॉक फंड्स पर ब्याज भी कमा सकता है.

सेबी ने आईपीओ बोली के लिए ASBA को अनिवार्य कर दिया है।  

* आईपीओ के लिए आवेदन करने के लिए डीमैट अकाउंट अनिवार्य है।

एक बार खाता खोलने के बाद, आपको कुछ सरल चरणों का पालन करने की आवश्यकता है।

  1. अपने ट्रेडिंग खाते में लॉगिन करें
  2. आईपीओ चुनें, (एसबीआई कार्ड आईपीओ)
  3. अपने लिंक किये गए बैंक अकाउंट से अपने ट्रेडिंग अकाउंट में फंड को ट्रांसफर करें।
  4. इसके बाद, आप जितने शेयर के लिए आवेदन करना चाहते हैं, उसकी मात्रा दर्ज करें।
  5. बिड प्राइस दर्ज करें।
  6. अपनी एंट्री सब्मिट करें।

आवंटन होने पर, शेयरों को आपके डीमैट खाते में क्रेडिट कर दिया जाएगा और शेष पैसा ईसीएस के माध्यम से आपके बैंक खाते में जमा किया जाएगा।

इसमें कोई संदेह नहीं है कि इंटरनेट और बढ़ती तकनीकी ने सभी के लिए आईपीओ में आवेदन करना आसान बना दिया है।


एसबीआई कार्ड का आईपीओ से जुड़े लाभ और जोखिम: (SBI Card IPO Risk and Advantages)

एक्सपर्ट्स के अनुसार, एसबीआई कार्ड का आईपीओ को निवेशकों के लॉन्ग-टर्म में लाभ  प्राप्त करने का एक अच्छा अवसर प्रदान कर सकता है। बाजार में मजबूत पैठ और अधिक प्रतिशत भी कंपनी के लिए एक बोनस पॉइंट हो सकता है। इसके अलावा, यह डिजिटल पेमेंट में निरंतर बढ़ोत्तरी के माध्यम से भी अधिक लाभ उठाने की स्थिति में है।

हालांकि, क्रेडिट कार्ड उद्योग से जुड़ा कुछ  निश्चित जोखिम है:

  • छोटे लेनदेन के लिए ई-वॉलेट और यूपीआई सेवाओं की वृद्धि 
  • आर्थिक मंदी

निष्कर्ष

SBI कार्ड को क्रमशः AAA और A1 + bu CRISIL और ICRA के रूप में रेट किया गया है। CRISIL की रिपोर्ट के अनुसार, SBI कार्ड भारत में खुले बाजार ग्राहक अधिग्रहण के मामलें में सबसे आगे रह सकता है।

एसबीआई 95 लाख सक्रिय ग्राहकों के साथ कार्ड जारी करने वाली कंपनी के रूप में दूसरे स्थान  पर है। जबकि HDFC बैंक 1.35 करोड़ कार्ड होल्डर के साथ पहले स्थान पर है।

कंपनी ने प्रति शेयर ₹750-755 का मूल्य निर्धारण किया है।  कंपनी ग्रे मार्केट में ₹370-375 रूपये के प्रीमियम पर ट्रेड कर रहा है, पिछले एक हफ्ते में इसमें ₹100 रूपये की बढ़त्तोरी देखी गयी है।  एक्सपर्ट्स का मानना है की आईपीओ जैसे-जैसे नजदीक आएगी, इसके शेयर पर प्रीमियम बढ़ेगा।

इस प्रकार, यह कह सकते है की यह आईपीओ आपको मालमाल कर सकता है। यदि आप एसबीआई कार्ड के शेयर खरीदते है तो इसे लम्बे समय तक पोर्टफोलियो के लिए रखें। एक निवेशक के रूप में आप इस पर दावं लगा सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

five + eighteen =