Short Selling: बाजार में गिरावट के दौरान भी कमा सकते हैं अच्छा मुनाफा, जानिए कैसे?

शेयर मार्केट के अन्य लेख

जब शेयर बाजार में तेजी (Share Market Rising) का माहौल हो तो हर कोई मुनाफा कमाता है। लेकिन मार्केट हमेशा एक जैसी नहीं रहती और शेयर बाजार एक वोलेटाइल मार्केट है और इस तथ्य से हर कोई परिचित है।

शेयर बाजार में उतार-चढ़ाव होना बहुत स्वाभाविक है। लेकिन ऐसा कहा जाता है की बाजार में तेजी हो तो मुनाफा कमाया जा सकता है। लेकिन बाजार में गिरावट के दौरान कोई भी निवेश नहीं करना चाहता।

चूँकि, शेयर बाजार में गिरावट का अनुमान लगाना बहुत मुश्किल है।

इसलिए, कई बार शेयर बाजार में गिरावट (Share market falling) के कारण निवेशकों के मेहनत से कमाई पूँजी (Hard earned money) डूब जाती है।

इसका ताजा उदाहरण कोरोना वायरस है।

अभी आपने देखा होगा की कोरोना वायरस के कारण दुनिया भर के शेयर बाजार में मंदी (Bearish market) का माहौल था। इस दौरान कई निवेशकों की पूँजी डूब गयी।

लेकिन कुछ समझदार निवेशकों ने इस आपदा को भी अवसर में बदल दिया और इस कोरोना काल के दौरान अच्छा मुनाफा कमाया।

जब भी सेंसेक्स या निफ्टी (Sensex or Nifty) के अंक टूटते है तो निवेशकों को करोड़ो का नुकसान होता है।

लेकिन इसमें कुछ स्मार्ट निवेशक होते हैं, जो इसमें से भी पैसा कमा सकते है।

जी हाँ,

ऐसे स्मार्ट इन्वेस्टर होते है, जो बाजार में गिरावट के दौरान भी पैसा कमा (How to make money from falling market) लेते हैं।

ये भी पढ़े: स्मार्ट इन्वेस्टर टिप्स

वैसे इसमें कोई हैरानी की बात नहीं है, क्योंकि शेयर मार्केट में कुछ ऐसे तरीके होते है, जिससे आप शेयर मार्केट में गिरावट के दौरान भी मुनाफा यानी पैसे कमाए जा सकते हैं।

इस तकनीक या तरीके को शॉर्ट सेलिंग (What is Short Selling) कहते है।


शॉर्ट सेलिंग से कमाएं पैसे

आमतौर पर शेयर बाजार में लोग कम कीमत पर शेयर खरीदते है और उससे अधिक कीमत होने पर बेच देते है।

जानिए यहाँ शेयर कैसे खरीदे और शेयर कैसे खरीदे और बेचे की आसान प्रक्रिया। साथ ही आपको शेयर खरीदने के नियम के बारे में भी जानकारी होनी चाहिए।

यह शेयर बाजार में मुनाफा कमाने की एक आम आवधारणा है।

अब ठीक इसी आवधारणा की तरह शेयर बाजार में अधिक कीमत पर शेयर बेचकर और उससे कम कीमत पर वापस शेयर खरीदकर भी मुनाफा बना सकते है।

ये शेयर बाजार में ट्रेडिंग करने का एक तरीका है जिससे मुनाफा कमाया जा सकता हैं।

यहाँ, बाजार में शेयर के भाव ऊपर जाने पर शेयर को बेच दिया जाता हैं और भाव गिरने पर उन्हें खरीद लिया जाता है।


शॉर्ट सेलिंग का उदाहरण

मान लीजिये आज शेयर बाजार में इनफ़ोसिस के शेयर का भाव ₹1164 रूपये है।

दिन बढ़ने के साथ शेयर के भाव ₹1164 रूपये से बढ़कर ₹1300 रूपये तक पहुंच जाता है, लेकिन आप पूरी तरह से आश्वस्त है की आज मार्केट में गिरावट की संभावना अधिक है तो आप इसे ₹1300 रूपये के भाव पर बेच सकते हैं।

अब अगर दिन ढलने के बाद शाम तक इनफ़ोसिस के शेयर का भाव ₹1164 रूपये पर आ जाता है, तो आप वापस शेयर को ₹1164 रूपये पर खरीद सकते है।

अब आपने अधिक कीमत पर शेयर बेचा है और कम भाव पर शेयर खरीदा है तो आपको इससे ₹136 रूपये का मुनाफा होगा।


लेकिन कोई शेयर खरीदे बिना शेयर कैसे बेचें?

अब ऐसे भी कई लोग हैं, जिनको शॉर्ट सेलिंग (Short Selling) के बारे में नहीं पता हैं। ऐसे लोगों के मन में पहला सवाल सवाल होता है की आखिर कोई बिना शेयर खरीदे कैसे बेचें।

आमतौर पर जब आप कोई शेयर खरीदते है तभी उस शेयर को बेचते हैं। ये एक आम प्रक्रिया है जो हर जगह लागू होती है।

लेकिन शेयर बाजार में ये विशेष सुविधा है कि शेयर पहले बेच सकते हैं और बाद में उसी शेयर को वापस खरीद सकते हैं।

हालाँकि, जब आप शेयर की बिक्री कर रहे होंगे, तो आपके ट्रेडिंग अकाउंट में उन शेयर्स की कीमत के पैसे कट जाएंगे।

अब दोनों ही सूरत ए हाल में चाहे आप शेयर खरीदे या बेचें, आपको अपने ट्रेडिंग अकाउंट से पैसे देने होंगे।

लेकिन जैसे की आपने ऊपर उदाहरण में देखा, शेयर बेचने के बाद शेयर खरीदने पर होने वाले मार्जिन से आपको फायदा होता है।


शॉर्ट सेलिंग ने बड़े-बड़े निवेशकों को मुनाफा दिया

अगर बड़े निवेशकों के बात करें तो इसमें राकेश झुनझुनवाला और राधाकृष्ण दामनी जैसे निवेशक हैं, जिन्होंने शॉर्ट सेलिंग से बहुत पैसे कमाएं है।

हालाँकि, ज्यादातर ट्रेडर ने कभी न कभी एक समय पर शॉर्ट सेलिंग से मुनाफा कमाया होगा।

कई बार निवेशक जानबूझकर शेयर के भाव बढ़ा देते है और बाद में शेयर के भाव गिरते हैं तो कुछ निवेशकों को इनसे जबरदस्त मुनाफा होता है।

ऐसा ही एक उदाहरण 1990 के दशक की है, जब हर्षद मेहता ने एसीसी के शेयर्स को जानबूझकर ऊपर चढ़ाया था और बाद में जब शेयर के भाव नीचे गया तो राधाकृष्णन दामनी ने उन शेयर्स को शॉर्ट सेलिंग करके बहुत पैसा बनाया।

अब यहाँ हर्षद मेहता ने शेयर्स को मैनुपूलेट करके शेयर के भाव बढ़ाए थे, लेकिन बाजार में हमेशा यही स्थिति नहीं रहती।

शेयर बाजार में गिरावट कई कारणों से हो सकते है। ऐसे में आपको एक स्मार्ट इन्वेस्टर की तरह शॉर्ट सेलिंग का प्रयोग करना है और मुनाफा कमाना हैं।


अगर आप भी शेयर बाजार में निवेश करना चाहते हैं तो आपको बस एक डीमैट अकाउंट खोलना होगा।

आप डीमैट अकाउंट के द्वारा ट्रेडिंग शुरू कर सकते है और एक स्मार्ट इन्वेस्टर बन सकते हैं।

अभी डीमैट अकाउंट खोलने के लिए नीचे दिए फॉर्म में अपनी बुनियादी जानकारी दर्ज करें।

बस नीचे दिए फॉर्म में जानकारी भरें और शीघ्र ही आपको एक कॉलबैक प्राप्त होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

three × 4 =