Swing Trading Books in Hindi

शेयर मार्केट एजुकेशन के अन्य लेख

जीवन में किसी भी क्षेत्र में अपना करियर बनाने के लिए किताबों की भूमिका अहम होती है। किताबों को इंसान का सच्चा दोस्त भी माना जाता है जो कभी धोखा नहीं देता। शेयर मार्केट में खासतौर पर स्विंग ट्रेडिंग के क्षेत्र मेें भी किताबें आपकी दोस्त हो सकती है। तो अगर आप स्विंग ट्रेडिंग (swing trading in hindi) कर स्टॉक मार्केट में मुनाफा कमाने की ओर देख रहे है तो यहाँ पर आपके लिए swing trading books in hindi का विवरण दिया गया है। 

इन किताबो में दी हुई जानकारी से जाने की स्विंग ट्रेडिंग क्या है और किस तरह से ये आपको ट्रेड करने में सही स्टॉक का चयन करने के लिए इस्तेमाल होने वाली बारीकियों को समझने में मदद करता है। 

स्विंग ट्रेडिंग की किताबें 

एक सही किताब में क्या होना चाहिए उसके लिए आपको कुछ पहलूओं को देखना चाहिए जैसे की:

  • किताब में कितने टॉपिक बताए गए है
  • इसमें किस भी मुश्किल कांसेप्ट को किस तरह से आसानी समझाया गया है

अब शेयर मार्केट की किताबो की बात जब आती है तो ऐसे बहुत सी किताबे है जो आपको ट्रेडिंग, चार्ट, शेयर मार्केट एनालिसिस (share market analysis in hindi) के बारे में जानकारी देती है लेकिन उसमे से ज़्यादातर किताबे इंग्लिश में है।  

इंडियन शेयर मार्केट में बहुत से ट्रेडर इसी वजह से मार्केट के कांसेप्ट को समझने में असमर्थ रहते है। इसी मुश्किल को हल करने के लिए यहाँ पर आपके लिए दो हिंदी किताबो का विवरण दिया गया है जो आपको स्विंग ट्रेडिंग के जानकारी के साथ, किस तरह से स्विंग ट्रेडिंग के लिए एक सही स्टॉक का चयन कर सकते है उसकी जानकारी प्रदान करती है। 

तो आइये जानते है कि स्विंग ट्रेडिंग की हिंदी में 2 प्रमुख किताबें कौनसी है। 

स्विंग ट्रेडिंग टेक्नीकल एनालिसिस हिंदी 

यह किताब शार्ट टर्म ट्रेडिंग में पैसा कैसे बनाएं और स्विंग ट्रेडिंग के शार्ट टर्म ट्रेडिंग तकनीक में उस्ताद बनाने में मदद करेगी। यह किताब टेकनिकल एनालिसिस की मदद से स्विंग ट्रेडिंग सीखने के लिए सबसे अच्छी किताब है।  इस किताब से आप स्विंग ट्रेडिंग के आधार पर ट्रेडिंग करके हर बार मुनाफा कमा सकते हैं। इसके लेखक रवि पटेल हैं।   

2009 में प्रकाशित ये किताब आपको स्विंग ट्रेडिंग से जुड़ी सभी तरह की जानकारी देती है जैसे की, कब स्टॉक खरीदना चाहिए, कब उसे बेचना चाहिए, स्विंग ट्रेडिंग स्ट्रेटेजी का उपयोग कर सही प्राइस में ट्रेड करना आदि

मार्केट की तकनीकियों को सरल भाषा में समझकर आप मार्केट में ट्रेड कर मनचाह मुनाफा कमा सकते है। साथ ही ये किताब आपको मार्केट के जोखिमों से अवगत करवाती है और किस तरह से आप अपने जोखिमों को समझकर ट्रेड करने का निर्णय ले सकते है।


टेक्नीकल एनालिसिस और कैंडलस्टिक की पहचान

अब बात करते है स्विंग ट्रेडिंग करने के लिए सबसे ज़रूरी पहलू की, स्विंग ट्रेडिंग करने के लिए सबसे ज़रूरी है सही विश्लेषण करना और जिसके लिए एक शुरूआती ट्रेडर के लिए आवश्यक है स्टॉक का तकनिकी विश्लेषण करना।

इसके लिए ट्रेडर को कैंडलस्टिक चार्ट और इंडिकेटर की पूर्ण ज्ञान होना काफी ज़रूरी हो जाता है और इसलिए आपके लिए ये किताब काफी महत्वपूर्ण हो जाती है।

इस किताब में आप स्टॉक मार्किट के बेसिक्स, टेक्निकल एनालिसिस के बेसिक्स, कैंडलस्टिक, चार्ट पैटर्न्स, टेक्नीकल इंडीकेटर्स, स्टॉप लॉस थ्योरी, के बारे में बताया गया है जिससे आप सीखकर आसानी से स्विंग ट्रेडिंग के जारिए शेयर मार्किट में मुनाफा कमा सकते हैं।

टेक्निकल एनालिसिस को और बारीकी से समझने के लिए आप तकनीकी विश्लेषण की किताबे (technical analysis books in hindi) भी पढ़ सकते है जो आपको मार्केट के कांसेप्ट को समझने में और मदद करेगा


निष्कर्ष 

इन सभी किताबों को पढ़कर आप आसानी से स्विंग ट्रेडिंग करना सीख सकते हैं और इससे जुड़े टर्म जैसे कि एंट्री पॉइंट, एग्जिट पॉइंट और स्टॉप लॉस के बारे में आसानी से समझ सकते हैं और स्विंग ट्रेडिंग तकनीक में किसी पोजीशन को 24 घंटे से ज्यादा देर तक होल्ड कर सकते हैं।    

स्विंग ट्रेडिंग के जरिए आप कम समय में अच्छा प्रॉफिट कमा सकते हैं।   


शेयर मार्केट के संपूर्ण ज्ञान के बाद अगर आप शेयर बाजार में निवेश करना चाह रहे है तो उसके लिए आप नीचे दिए गए फॉर्म भरे और हम आपको एक सही स्टॉकब्रोकर को चुनने में मदद करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

5 × one =