एमसीएक्स

शेयर मार्केट के अन्य लेख

एमसीएक्स‘ का मतलब मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज है। यह भारत के सबसे बड़े एक्सचेंजों में से एक है, और यह आपको शेयर बाजार में विभिन्न प्रकार की कमोडिटी में ट्रेड और निवेश करने की अनुमति देता है।

देश के विभिन्न फुल-सर्विस ब्रोकर और डिस्काउंट ब्रोकर्स को कमोडिटी में ट्रेड करने के लिए एक्सचेंज से सदस्यता प्राप्त करनी होती है।

आइये इस विस्तृत समीक्षा में ‘MCX in Hindiकी मूल बातों को जानने की और समझने की कोशिश करें कि यह कैसे काम करता है और यह आपके ट्रेड को कैसे प्रभावित करता है।

ये भी पढ़े: एनएसई और बीएसई   


एमसीएक्स – परिचय

रुपए-पैसों के लेनदेन से पहले लोगों में वस्तुओं या कमोडिटी ट्रेडिंग के आदान-प्रदान (कमोडिटी ट्रेडिंग) की व्यवस्था प्रचलित थी।

पहिए का आविष्कारहोने के बाद बुनियादी जरूरतों के साथ-साथ कमोडिटी को एक निवास स्थान से दूसरे स्थान तक आदानप्रदान किया जाने लगा।

अब हजारों वर्षों के बाद इसने एमसीएक्स के रूप में बहुत सारे वस्तुओं के आदान-प्रदान के लिए एक प्लैटफॉर्म बना है।

इसका गठन वर्ष 2003 में हुआ और यह पूरे भारत में ऑनलाइन ट्रेड किए जाने वाले वस्तुओं के लिए मल्टीलेवल (बहु-स्तरीय) स्थान है।

संचालित होने के 17 साल के अंदर ही, मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज का कारोबार वर्ष 2020 में 84 ट्रिलियन से अधिक हो गया था।

इसे वर्ष 2017 में अंतर्राष्ट्रीय कमोडिटी एक्सचेंज की सूची में फ्यूचर डेरिवेटिव ट्रेड करने वाले कारोबार में एमसीएक्स को सातवें स्थान पर रखा गया था।


एमसीएक्स: यह कैसे काम करता है?

MCX भारत में स्थित सबसे बड़ा स्वतंत्र कमोडिटी एक्सचेंज है। यह बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) में सूचीबद्ध है, जो इसे 2012 में भारत का एकमात्र सार्वजनिक रूप से सूचीबद्ध एक्सचेंज बनाता है।

MCX को 2015 से पहले ‘FMCयानी फॉरवर्ड मार्केट कमीशन द्वारा नियंत्रित किया जाता था, लेकिन 2015 में FMC और सेबी का एक साथ मर्जर होने के बाद एमसीएक्स को सेबी द्वारा नियंत्रित किया जाता है।

एमसीएक्स (मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज) एक ऐसा प्लेटफार्म मंच प्रदान करता है जहां बुलियन, एनर्जी, नॉन-फेरस मेटल और कृषि जैसे वस्तुओं में ट्रेड करने का विकल्प उपलब्ध रहता है।

आगे बढ़ने से पहले आइए हम MCX in Hindi की मुख्य बातों को जान ले:  


एमसीएक्स कमोडिटी मार्केट

कमोडिटी मुख्य रूप से वस्तुओं और सेवाओं का एक संरचना है। इसमें ट्रेड के लिए कच्चे माल शामिल हैं जो व्यक्तियों या संस्थाओं द्वारा खरीदा या बेचा जाता है।

कमोडिटी (वस्तुओं) की श्रेणियां: मूल रूप से कमोडिटीज की तीन श्रेणियां हैं, जिन्हें नीचे दिया गया है:

  • कृषि: इसमें खाद्य पदार्थ, पशु, फसलें जैसे कृषि उत्पाद इत्यादि शामिल है। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज का कृषि क्षेत्र में बहुत कम योगदान है।
  • ऊर्जा: मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में मुख्य रूप से धातु और ऊर्जाका ट्रेड किया जाता है तथा सबसे अधिक कमोडिटी की ऊर्जा श्रेणीमें ट्रेड होता है। इसमें कच्चे तेल, यूरेनियम, इथेनॉल, बिजली और प्राकृतिक गैस सहित सभी प्रकार के ऊर्जा स्रोतशामिल है।
  • धातु: इसमें सभी प्रकार की धातु है जिनमें सोना को मुख्य रूप से कॉन्ट्रैक्ट किया जाता है। 

कमोडिटीज में ट्रेडिंग:

कमोडिटीज में ट्रेडिंग, स्पॉट मार्केट या फ्यूचर मार्केट में किया जाता है।

स्पॉट मार्केट में वस्तुओं कि डिलीवरी के साथ-साथ पैसों का भुगतान और लेन-देन किया जाता है। कमोडिटी बाजार में फ्यूचर ट्रेडिंग वस्तुओं के मानक मूल्यों में कमी या वृद्धि के साथ किया जाता है।

इसमें सभी प्रकार के लेन-देन इलेक्ट्रॉनिक रूप से किया जाता है और इसे समाप्त करने के लिए वस्तुओं की भौतिक डिलीवरी और पैसे का लेन-देन आवश्यक है।

मल्टी-कमोडिटी एक्सचेंज अलग-अलग महीनों के आधार पर फ्यूचर कांट्रैक्ट प्रदान करता है, जिसमें स्पॉट मूल्य के आधार पर कारोबार किया जाता है।

अधिक जानकारी के लिए, कमोडिटी ट्रेडिंग कैसे काम करता है? की विस्तृत समीक्षा की जांच करें।


एमसीएक्स-  उदाहरण

स्पॉट मार्केट में सोना खरीदने के लिए साथ ही साथ पूरे पैसों का भुगतान करना पड़ेगा। लेकिन एमसीएक्स में ट्रेड करने के लिए लगभग 10% से 20% हिस्सा ‘डेरिवेटिव या ऑप्शन ट्रेडिंग’ के रूप में खरीदना पड़ता है।

सोने की खरीद वर्तमान महीने के कॉन्ट्रैक्ट के आधार पर की जा सकती है जो पूरे महीने चलती रहती है, और एमसीएक्स के अंतर्गत आने वाले प्रत्येक धातु के लिए कॉन्ट्रैक्ट एक निश्चित समय पर समाप्त हो जाता है।

यह कांट्रेक्टर खरीदे गए सोने की मात्रा पर निर्भर करते हैं। कोई भी व्यक्ति जितना चाहे उतना सोना किसी भी महीने में खरीद सकता है और खरीदे गए सोने को कांट्रैक्ट समाप्त होने की तिथि से पहले कभी भी बेच सकता है।

यदि सोना एक्सपायरी डेटपर नहीं बेचा जाता है तो एक्सचेंज खुद ही एक्सपायरी डेटपर समय उपलब्ध सोने के भाव के अनुसार ही सोने को बेच देता है, और इससे मिलने वाले लाभ या नुकसान के अंतर को आपके ट्रेडिंग खाते में जमा या ट्रेडिंग खाते से पैसे निकाल कर पूरा किया जाता है।


एमसीएक्स के लाभ

इक्विटी बाजार में ट्रेड के लिए बहुत ही निश्चित समय सीमा होती है लेकिन इसके विपरीत एमसीएक्स में धैर्य अनुशासन ज्ञान और कई कारकों के साथ मध्य रात्रि तक ट्रेडिंग किया जा सकता है और बहुत अधिक लाभ कमाया जा सकता है।

मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज के कुछ लाभ नीचे दिए गए हैं:

  • कम मार्जिन के साथ अधिक लाभ: कमोडिटी में ट्रेड करने के लिए कमोडिटी के कुल खरीद मूल्य का लगभग 1/5 या उससे कम का मार्जिन लगता है और यदि किसी विशेष कमोडिटी में उसके दाम बढ़ने या घटने का सही अनुमान लगाया गया है तो इसमें बहुत अधिक मुनाफा कमाया जा सकता है
  • पारदर्शिता: ट्रेडिंग वॉल्यूम वस्तु के दाम और उस में होने वाले परिवर्तन पूरी तरह से पारदर्शी और एक सही क्रम में रहते हैं।
  • डायवर्सिफिकेशन और लिक्विडिटी: कई महीनों के लिए डेरिवेटिव और ऑप्शंस के कॉन्ट्रैक्ट के आधार पर बहुत सारे मौके उपलब्ध रहते हैं। विभिन्न प्रकार के कमोडिटी में ट्रेडिंग करने का विकल्प आपको  कई फायदे देते हैं और अलग-अलग कमोडिटी एक्सचेंज में ट्रेड करने में आपको सुलभता प्रदान करते हैं।

एमसीएक्स की कमियां 

कमोडिटीज बाजार में उतार-चढ़ाव के द्वारा लाभ तो कमा सकते हैं, लेकिन बिना उचित ज्ञान और अन्य कारकों के ट्रेडिंग करने पर जोखिम भी हो सकता हैं। एमसीएक्स की कमियां मुख्य रूप से कमोडिटी बाजार में वोलैटिलिटी है, जो निम्नलिखित है:

  • अस्थिरता: हाल ही में किए गए एक शोध से पता चला है कि कमोडिटी ट्रेडिंग वस्तुओं ने शेयरों में ट्रेडिंग के जोखिम को दोगुना कर दिया है और बॉन्ड्स  में होने वाले ट्रेडिंग की तुलना में 4 गुना अधिक जोखिम भरा है।
  • किसी प्रकार का निरंतर इनकम प्राप्त नहीं हो सकता: सूझ- बूझ, विवेक और धैर्य के साथ वस्तुओं में किया जाने वाला निवेश कभी-कभी स्थिर या नकारात्मक हो सकता है। यहां प्राप्त होने वाला इनकम स्थिर नहीं है, अपने दिन-प्रतिदिन की जरूरतों के लिए इस पर निर्भर नहीं रहा जा सकता है।

एमसीएक्स – निष्कर्ष

कमोडिटी मार्केट विकसित देशों में ग्लोबल (अंतरराष्ट्रीय) व्यापार प्रणाली की नीव और भारतीयों के लिए एक नई व्यापार नीति है।

जिस तरह एमसीएक्समें हर दिन कारोबार बढ़ रहा है वह कमोडिटी ट्रेडिंग मार्केट में इसके बढ़ रही मांग का एक स्पष्ट प्रमाण है।

पारदर्शिता, लिक्विडिटी, कम निवेश के साथ उच्च रिटर्न, और कृषि उपज का सही मूल्य मिलना इत्यादि के कारण मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज भारतीयों के लिए एक बेहतरीन प्लैटफॉर्म प्रदान कर रहा है।

यदि आप एमसीएक्स या इससे संबंधित किसी अन्य एक्सचेंज के माध्यम से कमोडिटी ट्रेडिंग या वस्तुओं में निवेश या ट्रेड करना चाहते हैं तो आगे के कदम उठाने में हम आपकी सहायता करेंगे:

यहां बुनियादी विवरण दर्ज करें और आपके लिए एक कॉल बैक की व्यवस्था की जाएगी।

Summary
Review Date
Reviewed Item
एम सी एक्स
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

three × 3 =