Indigo Paints IPO in Hindi

अन्य IPO का विश्लेषण

साल 2021 की शुरुआत, भारतीय शेयर मार्केट के लिए एक उम्मीद की किरण की तरह बन कर आयी है। और इसके पीछे वजह, इस साल लगभग 21 कंपनियों का आईपीओ लॉन्च करना है।

जबकि हम अपकमिंग आईपीओ 2021 (Upcoming IPOs in Hindi) के बारे में चर्चा कर रहे हैं, तो इस Indigo Paints दूसरी IPO लेकर आएगी।

पिछले साल, भारतीय शेयर मार्केट ही नहीं बल्कि दुनिया के सभी स्टॉक मार्केट के लिए एक सबक था।

हालाँकि, साल 2020 के खत्म होते-होते बाजार अपने पुराने रंगत में लौटने लगी थी। इसका उदाहरण बर्गर किंग आईपीओ, एंटोनी वेस्ट और बेक्टर आईपीओ का शानदार प्रदर्शन करना रहा।

पिछले साल के अंत में आयी रौनक नए साल में भी जारी है। बाजार का हाल देख कर निवेशकों के मन भी उत्साह जगा है और यही कारण है की नयी कंपनियां बढ़-चढ़ कर पूँजी जुटाने के लिए आईपीओ के जरिये पब्लिक होने जा रही है।

इस लिस्ट में इंडिगो पेंट आईपीओ भी शामिल है, इंडिगो पेंट एक लोकप्रिय पेंट मैन्युफैक्चरर है जो वर्षो से अपनी क्वॉलिटी पेंट के कारण लोगों का दिल जीत रही है। यह देश की पांचवी सबसे बड़ी डेकोरेटिव पेंट कंपनी है।

पिछले साल आयी आईपीओ की सफलता ने इंडिगो पेंट के लिए एक ज़मीन तैयार करके रखी है, जो अब 58.40 लाख इक्विटी शेयर की बिक्री करेंगे।

इसे आसान शब्दों में समझें तो, यह उन इन्वेस्टर्स के लिए एक शानदार अवसर होगा, जो कम पैसे में स्टॉक खरीदना चाहते हैं।

कम कीमत पर स्टॉक खरीदने का तात्पर्य यह है की, आईपीओ में खरीदे गए शेयर लिक्विड होते है और आसानी से बिक्री हो जाती है, तो यह इन निवेशकों के लिए एक अच्छा मौका होता है जो कम पैसों के साथ शॉर्ट टर्म प्लान करते हैं।

चलिए अब Indigo Paints IPO in Hindi में समीक्षा करते हैं और यह पता करते है की निवेशकों के लिए कितना सही है।

जनवरी माह में आने वाले आईपीओ: 


Indigo Paints IPO Details in Hindi

इंडिगो पेंट की स्थापना वर्ष 2000 में हुई थी और यह तब से लेकर आजतक पेंट और इमल्शन इंडस्ट्री में सबसे बड़े नामों में एक बन गया है।

कंपनी ने नवंबर 2020 में सेबी के साथ अपना DRHP (ड्राफ्ट रेड हेरिंग प्रॉस्पेक्टस) दायर किया।

इंडिगो पेंट्स आईपीओ का उद्देश्य तमिलनाडु में पुदुक्कोट्टई में स्थित अपनी मैन्युफैक्चरिंग फैसिलिटी को विस्तार देना है। इसके अलावा, इस आईपीओ को लिस्टेड करने के उद्देश्य निम्नानुसार हैं:

  • तमिलनाडु के पुदुक्कोट्टई में मैन्युफैक्चरिंग प्लांट के विस्तार के लिए, मौजूदा फैसिलिटी के पास एक 150 करोड़ की लागत से नई अतिरिक्त यूनिट स्थापित करेगी।
  • 50 करोड़ की लागत से इक्विपमेंट की खरीद होगी जैसे – टिंटिंग मशीन और ज़ीरोशेकर्स,
  • 25 करोड़ का इस्तेमाल उधार का भुगतान या रिपेमेंट
  • अन्य कॉर्पोरेट उद्देश्य

इंडिगो पेंट्स आईपीओ इश्यू के लीड मैनेजर कोटक महिंद्रा कैपिटल कंपनी लिमिटेड, एडलवाइज  फाइनेंशियल सर्विसेज, आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज है।

इंडिगो पेंट का प्लान IPO के माध्यम से ₹300 करोड़ रुपये जुटाने की है जहाँ कंपनी के इन्वेस्टर और प्रमोटर 58.40 लाख इक्विटी शेयरों की बिक्री करने का योजना है।

प्रत्येक इक्विटी शेयर का फेस वैल्यू ₹10 रूपये है।

नीचे दी गई टेबल में सभी इंडिगो पेंट्स आईपीओ विवरण हैं जो किसी भी इच्छुक निवेशकों के लिए उपयोगी होंगे:

इंडिगो पेंट आईपीओ रिव्यु 

कंपनी का नाम (जारीकर्ता) इंडिगो पेंट इंडस्ट्रीज लिमिटेड
इश्यू के प्रकार 100% बुक बिल्ट इश्यू आईपीओ
इश्यू की अवधि खुलने की तिथि: 20 जनवरी
बंद होने की तिथि: 22 जनवरी
प्राइस बैंड ₹1480-₹1490
इश्यू साइज ₹1000 करोड़
फ्रेश इश्यू ₹300 करोड़
ऑफर फॉर सेल 58.40 लाख इक्विटी शेयरों
फेस वैल्यू ₹10 रुपये प्रति इक्विटी शेयर
मिनिमम बिड अमाउंट 10 शेयर्स
मार्केट लॉट 10 शेयर
मैक्सिमम बिड अमाउंट [●]
QIB (क्वालिफाइड इंस्टीटूशनल बायर) इश्यू साइज का 50% से अधिक नहीं
NIB (नॉन-इंस्टीटूशनल बिडर) इश्यू साइज का 15% से अधिक नहीं
RIB (रिटेल इंडिविजुअल बिडर) इश्यू साइज का 35% से अधिक नहीं
लिस्टिंग एनएसई और बीएसई

अपकमिंग आईपीओ में ₹10 रुपये प्रति इक्विटी शेयर के साथ 1,407,069,000 इक्विटी शेयर उपलब्ध हैं।

इंडिगो पेंट फाइनेंशियल परफॉर्मन्स  

छमाही नतीजे (30सितम्बर, 2020) वार्षिक रिपोर्ट (31मार्च, 2020) वार्षिक रिपोर्ट (31मार्च, 2019) वार्षिक रिपोर्ट (31मार्च, 2018)
रेवेन्यू  2,602.43 6,264.36  5,372.62  4,031.05
खर्चें  2,250.18 5,590.09  5,032.47  3,892.35
लाभ  352.25 674.27  337.10 125.54

इंडिगो पेंट आईपीओ प्रोमोटर 

इंडिगो पेंट्स आईपीओ प्रमोटर समूह में इंडिविजुअल के साथ-साथ एक कॉर्पोरेट इकाई भी शामिल है। पूरे प्रमोटर समूह का इक्विटी शेयर, कंपनी की ओवरऑल इक्विटी शेयर पूंजी का 94.26% है।

नीचे दी गई टेबल प्रमोटर के शेयरहोल्डिंग पैटर्न को दिखाती है।

शरहोल्डर्स का नाम  इक्विटी शेयर की संख्या  कुल प्री-पेड ऑफर-अप इक्विटी शेयर पूंजी (%)
हेमंत जालान  10,237,500 35.27%
अनिता जालान  6,987,500 24.08%
पराग जालान  1,625,000 5.60%
कमला प्रसाद जालान  1,657,500 5.71%
तारा देवी जालान  1,891,045 6.52%
हैलोजन केमिकल प्राइवेट लिमिटेड  4,958,070 17.08%
कुल  27,356,615 94.26%

इंडिगो पेंट आईपीओ डेट 

कंपनी ने नवंबर 2020 में अपना DRHP दायर कर दिया था। और उसके दो महीने बाद आईपीओ लॉन्च करने की घोषणा कर दी।

कंपनी ने आईपीओ लाने की घोषणा कर दी है जहाँ 20 जनवरी को आईपीओ खुलेगी और 22 जनवरी को बंद हो जाएगी।

आईपीओ खुलने की तिथि  जनवरी 20, 2021
आईपीओ बंद होने की तिथि  जनवरी 22, 2021
अलॉटमेंट डेट  जनवरी 28, 2021
रिफंड की शुरुआत  जनवरी 29, 2021
डीमैट खाते में शेयर क्रेडिट करने की तारीख  फ़रवरी 1, 2021
आईपीओ लिस्टिंग तिथि  फरवरी 2, 2021

इंडिगो पेंट आईपीओ मार्केट लॉट साइज 

इंडिगो पेंट्स आईपीओ मार्केट का लॉट साइज 10 शेयरों का है। एक खुदरा-व्यक्तिगत निवेशक 13 लॉट (130 शेयर या ₹193,700) तक के लिए आवेदन कर सकता है।

एप्लीकेशन  लॉट शेयर  अमाउंट (कट-ऑफ)
मिनिमम 1 10 ₹14,900
मैक्सिमम 13 130 ₹193,700

इंडिगो पेंट्स आईपीओ ग्रे मार्केट प्रीमियम 

इंडिगो पेंट्स आईपीओ जीएमपी (ग्रे मार्केट प्रीमियम) [•] है।

ग्रे मार्केट्स रेगुलेटेड स्टॉक मार्केट के अलावा अनधिकृत इक्विटी शेयर डिलीवरी चैनल हैं।

जिस मूल्य पर किसी लिस्टेड कंपनी के इक्विटी शेयरों का ट्रेड ग्रे मार्केट में किया जाता है, वह ग्रे मार्केट प्रीमियम (GMP) होता है।

कई लोग ग्रे मार्केट को अवैध मान सकते हैं, लेकिन ऐसा नहीं है। इसके बजाए, ग्रे मार्केट निवेशकों को आईपीओ के परफॉर्मन्स की भविष्यवाणी करने में मदद करते हैं।


इंडिगो पेंट्स आईपीओ के लिए आवेदन कैसे करें?

इंडिगो पेंट्स का आईपीओ में अप्लाई करने के लिए आस्बा प्रक्रिया सबसे सुविधाजनक माना जाता है।

ब्लॉक किए गए खाते द्वारा समर्थित एप्लीकेशन या ASBA, एक प्रक्रिया है जो भारतीय नियामक SEBI द्वारा IPO में अप्लाई करने के लिए विकसित की गई है।

हालांकि, ASBA के माध्यम से IPO के लिए अप्लाई करने के लिए कुछ आवश्यकताएं हैं। पहला यह है कि निवेशक के पास डीमैट खाता होना चाहिए।

दूसरी आवश्यकता यह है कि निवेशक के पास सेल्फ-सर्टिफाइड सिंडिकेट बैंक (SCSBs) के साथ सेविंग्स अकाउंट होना चाहिए।

SCSB केवल एक बैंक हैं जो SEBI नियमों का पालन करते हैं।

यदि आपको पहली प्रक्रिया के माध्यम से जाना चाहते है, तो हमें आपके डीमैट खाता खोलने में सहायता करने का अवसर दें।

नीचे दिए गए फॉर्म में अपना नाम और संपर्क नंबर भरें।


ASBA के माध्यम से इंडिगो पेंट्स आईपीओ के लिए अप्लाई करें

एक बार जब निवेशक ASBA प्रक्रिया की शर्तों को पूरा करने के लिए तैयार हो जाता हैं, तो वे ASBA के माध्यम से इंडिगो पेंट्स आईपीओ के लिए आवेदन करने के लिए आगे बढ़ सकते हैं।

इसके दो तरीके हैं – ऑनलाइन और ऑफलाइन जिसके माध्यम से एक व्यक्ति आईपीओ के लिए आवेदन कर सकता है।

हमने नीचे प्रत्येक प्रक्रिया के चरणों पर चर्चा की है:
ऑनलाइन विधि
1. निवेशक को एनएसई की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ASBA फॉर्म भरना होगा।
2. ASBA फॉर्म में मूल विवरण शामिल हैं जैसे –

  • अप्लाई करने वाले का नाम
  • पैन नंबर
  • डीमैट खाता संख्या
  • बिड डिटेल्स जैसे बिड की मात्रा, बिड प्राइस इत्यादि।

ASBA फॉर्म बैंक का एक इंस्ट्रक्शन है कि किसी कंपनी के इक्विटी शेयरों को खरीदने के लिए इस्तेमाल की गई राशि को आईपीओ के माध्यम से ब्लॉक करें, जब तक कि शेयर निवेशक के डीमैट खाते में जमा न हो जाएं।

3. SCSB फॉर्म में शामिल सभी विवरणों की पुष्टि करता है और फिर NSE ASBA सिस्टम पर बिड अपलोड करता है।

ऑफ़लाइन विधि
इंडिगो पेंट्स आईपीओ के लिए ऑफलाइन अप्लाई करने के लिए, ट्रेडर को अपने SCSB पर जाकर ASBA फॉर्म भरना होगा।


इंडिगो पेंट्स कंपनी की जानकारी

इंडिगो पेंट्स भारत में पेंट्स उद्योग में सक्रिय सबसे प्रमुख नामों में से एक है। कंपनी की स्थापना 2000 में हुई थी।

आज, कंपनी ने अपने पेंट सॉलूशन की अपनी श्रृंखला को प्राइमर, इंटीरियर इमल्शन, डिस्टेम्पर्स, एक्सटर्नल इमल्शन के रूप में विस्तार किया है।

कंपनी ने तमिलनाडु में पुदुक्कोट्टई में अपनी मैन्युफैक्चरिंग फैसिलिटी को विस्तारित करने के लिए धन जुटाने के उद्देश्य से पिछले साल नवंबर में सेबी के साथ अपने DRHP दाखिल किए।


निष्कर्ष

इस साल IRFC आईपीओ के बाद दूसरा आईपीओ इंडिगो पेंट्स का आने वाला है।

इस पेंट कंपनी ने बाजार में अपना एक प्रमुख नाम स्थापित किया है और इसी उद्देश्य से अपने कारोबार को ज्यादा विस्तार देने के लिए पब्लिक हो रही है।

कंपनी ने आईपीओ के जरिए 1000 करोड़ रुपये जुटाने का लक्ष्य रखा है। यह इश्यू 58.40 लाख इक्विटी शेयरों की बिक्री करेगा और 300 करोड़ रुपये के शेयरों का फ्रेश इश्यू होगा।

यह आईपीओ शेयर बाजार में प्रवेश करने का सबसे अच्छा समय हो सकता है, क्योंकि आईपीओ के दौरान खरीदे गए शेयर तुलनात्मक रूप से बहुत सस्ते होते हैं।

जो निवेशक अपने बजट को लेकर संशय में हैं, वे निश्चित रूप से इस आईपीओ से मुनाफा कमा सकते हैं, क्योंकि समय के साथ इस कंपनी शेयरों के मूल्य में वृद्धि होने की संभावना है।

इंडिगो पेंट्स 58.40 लाख इक्विटी शेयरों की पेशकश कर रहा है, और प्रत्येक शेयर का फेस वैल्यू ₹10 रुपये है।

यह एक अच्छा मौका हो सकता है जो निवेशकों को शॉर्ट टर्म इन्वेस्टमेंट प्लान को पूरा करने में मदद कर सकता है।

इस कंपनी की ब्रांड वैल्यू एक USP है और हम उम्मीद करते हैं कि यह आईपीओ निवेशकों अच्छा कमाई करने का अवसर देगी।

निवेशक ASBA प्रक्रिया के माध्यम से अप्लाई कर सकते हैं, लेकिन इसके लिए उन्हें डीमैट खाते की आवश्यकता होगी।

यदि आपके पास एक डीमैट अकाउंट नहीं है, तो नीचे दिए गए फ़ॉर्म में अपना नाम और संपर्क नंबर भरें।


अगर आपको आईपीओ की पूरी जानकारी नहीं है या किसी अन्य विषय के बारे में जानना चाहते हैं तो नीचे टेबल में दिए लिंक पर जाएँ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

nineteen − five =