कवर्ड ऑप्‍शंस

बाकी ऑप्शन स्ट्रेटेजी भी पढ़ें

जैसा कि आप जानते हैं कि शेयर बाजार में स्टॉक्स (अंडरलेइंग एसेट्स) के बिना डेरिवेटिव कुछ भी नहीं हैं। इसका मतलब यह नहीं है कि सिर्फ वे ही डेरिवेटिव मार्केट में ट्रेड कर सकते है, जिनके पास स्टॉक या अंडर लेइंग एसेट्स हो। यदि आपके पास स्टॉक नहीं है, तो भी आप मार्केट में ट्रेड कर सकते है और यह कवर्ड ऑप्‍शन के माध्यम से संभव है। 

इसलिए यह समझना जरूरी है कि कवर्ड ऑप्‍शंंस कैसे काम कर सकते है? तो आईए सबसे पहले जानते हैं के कवर्ड ऑप्‍शंंस क्या होते है, इनमें बगैर स्टॉक के ट्रेड कैसे किया जा सकता है?

इसकी शुरुआत करे। 


कवर्ड ऑप्‍शंंस की जानकारी

कवर किए गए ऑप्‍शंंस उस स्थिति को प्रदर्शित करते है, जिसमें आप एक अंडरलेइंग सिक्युरिटी पर समान और विपरीत स्थिति रखते हुए ऑप्‍शन राइटिंग यानी शॉर्ट सेलिंग करते हैं। 

या

हम यह कह सकते है कि कवर किया गया ऑप्‍शन एक ऐसी स्थिति है, जिसमें ऑप्‍शन की स्थिति अंडरलेइंग एसेट्स की एक समान और विपरीत स्थिति से आफसेट होती है।  

इस स्ट्रैटेजी में कवर किए गए कॉल और कवर किए गए पुट दोनों ऑप्‍शन  कवर किए गए ऑप्‍शंंस के अंतर्गत आते हैं।

इसमें कवर किया गया कॉल ऑप्‍शन उस स्थिति को संदर्भित करता है, जिसमें एक इन्वेस्टर अंडरलेइंग एसेट्स/ स्टॉक पर कॉल ऑप्‍शन बेचता है जो उसके पास है। इसलिए, जब ऑप्‍शन होल्डर अपने अधिकार का उपयोग करता है, तो आप अपना स्टॉक वितरित कर सकते हैं जो स्वामित्व में था।

इसी तरह, कवर किए गए आप्श्न उस स्थिति को संदर्भित करते हैं जिसमें आप पुट ऑप्‍शन की राइटिंग करते हैं। यदि पुट ऑप्‍शंंस के होल्डर अपने अधिकार का उपयोग करते हैं और उनके पास खरीदारी करने के लिए पर्याप्त बैलेंस है। 

कवर्ड ऑप्‍शन में नुकसान सीमित रहता है। इसी कारण यह इन्वेस्टर्स और ट्रेडर्स के बीच खासे लोकप्रिय है और इसमें लेनदेन से संबंधित फ्यूचर नुकसान को कम करने में सहायता भी मिलती है। इसलिए हम यह कह सकते है कि कवर्ड ऑप्‍शन का उदेश्य ट्रेडिंग में नुकसान को स्थानांतरित या ट्रांसफर करना है। 


कवर कॉल आप्शन

कवर कॉल ऑप्‍शन एक ऐसी ऑप्‍शन स्ट्रैटेजी है, जिसमें इन्वेस्टर/ ट्रेडर खरीदता है या वह पहले से ही एक अंडरलेइंग एसेट या स्टॉक का मालिक है, फिर वह उसी या उससे कम राशि के साथ एक कॉल ऑप्‍शन बेचता है और फिर मार्केट में इस ऑप्‍शन कॉन्ट्रैक्ट या अनुबंध का उपयोग करने या ऑप्‍शन के एक्सपायर होने का इंतजार करता है। 

असल में, क्या होता है, जब आप एक अंडरलेइंग स्टॉक के लिए कॉल ऑप्‍शन बेचते है या राइटिंग करते है, जो आपके पास पहले से ही है या नहीं। तब इसमें यह होता है कि आप एक निश्चित मूल्य 0 पर स्टॉक खरीदने का अधिकार बेच रहे है, जो कॉल ऑप्‍शन कॉन्ट्रैक्ट एक्सपायर हो जाती है। इसलिए, यहां शेयर का प्राइज बाजार की दिशा, जो भी नहीं बदलेगी।

आपको कवर कॉल ऑप्‍शन को समझाने के लिए हम एक उदाहरण के माध्यम से इसे समझाने का प्रयास करते है:

मान लीजिए कि किसी ट्रेडर के पास डीएलएफ स्टॉक के 100 शेयर हैं प्रत्येक शेयर की वैल्यू 10 रु. प्रति शेयर है और वर्तमान में डीएलएफ स्टॉक 15 रू. प्रति शेयर पर शेयर बाजार में कारोबार कर रहा है।  

अब यदि ट्रेडर को उम्मीद है कि आने वाले 3 महीनों में स्टॉक की कीमत में गिरावट हो सकती है, तो वह डीएलएफ स्टॉक पर कॉल बेच देगा।

मान लीजिए कि वह 3 महीने की एक्सपायरी के लिए डीएलएफ की 20 स्ट्राइक प्राइज वाला कॉल ऑप्‍शन बेचता है। अगर स्टॉक की कीमत स्ट्राइक प्राइस से कम रहती है, तो उसे पूरी प्रीमियम का मुनाफा होगा।  

दूसरी ओर, यदि स्टॉक की कीमत 20 से ऊपर है, तो भी वह मुनाफा कमाएगा, क्योंकि उसके पास डीएलएफ शेयर 10 रु. प्रति शेयर पर खरीदें हुए है। चूंकि इन्वेस्टर कॉल ऑप्‍शंंस पर शॉर्ट है, इसलिए वह एक्सपायरी डेट पर या उसके बाद स्ट्राइक प्राइज पर शेयरों को वितरित करने के लिए बाध्य है।


कवर पुट आप्शन

कवर आप्शन, ऑप्‍शन ट्रेडिंग स्ट्रैटेजी को संदर्भित करता है, जिसमें एक  निवेशक अंडरलेइंग स्टॉक या सिक्युरिटी को बेचता है और फिर एक पुट ऑप्‍शन को बेचता है।

साफ शब्दों में इसका अर्थ है कि पहले आप अपना स्टॉक बेच रहे हैं और साथ ही बेचने का अधिकार बेच रहे हैं। यह स्ट्रैटेजी थोड़ी नुकसान भरी है, क्योंकि आपके पास कुछ भी नहीं बचता है, इतना ही नहीं यदि बेचे गए स्टॉक की कीमत बढ़ जाती है, तो आपको उस स्टॉक को वापस खरीदने की आवश्यकता भी होती है।

हालांकि, इस स्ट्रैटेजी का उपयोग उन शेयरों के लिए किया जाता है, जिनकी कीमतों में भविष्य में गिरावट की उम्मीद करते हैं। यह स्ट्रैटेजी सामान्य तौर पर डे ट्रेडरर्स द्वारा उपयोग की जाती है और इस बिजनस के लिए अच्छे अनुभव और सावधानी की आवश्यकता होती है।


कवर ऑप्‍शन की जरूरतें

कवर ऑप्‍शन मुख्य रूप से नुकसान लेने वाले और हेजर्स द्वारा उपयोग किए जाते हैं। इसका उपयोग उनके द्वारा बाजार में आने वाले उतारचढ़ाव के बीच फ्यूचर कंरसी और स्टॉक की सिक्युरिटी के लिए किया जाता है। इसलिए, हम यह कह सकते हैं कि यह उनके द्वारा अपने नुकसान को स्थानांतरित करने के लिए उपयोग किया जाता है।

कवर कॉल ऑप्‍शन कई निवेशकों और ट्रेडर्स के लिए बहुत प्राथमिक है। यदि आपने कॉल कवर किया है, तो इसका मतलब है कि आपके पास पहले से ही उस अंडरलेइंग एसेट के मालिक है।

इसलिए, कॉल ऑप्‍शन को बेचने के बाद आपको खुले बाजार से स्टॉक खरीदने की आवश्यकता नहीं है, क्योंकि आपके पास पहले से ही स्वामित्व है, जो कॉल खरीदार द्वारा प्रयोग किया जाता है।

  • कवर किए गए कॉल ऑप्‍शनका उपयोग करने का सबसे महत्वपूर्ण कारण उन शेयरों से मुनाफा कमाना है जो आपके पोर्टफोलियो में पहले से हैं।
  • यदि आप लंबी अवधि के निवेश, डिविडेंड प्राप्त करने या टैक्स कारण के लिए अपना स्टॉक रखना चाहते हैं। जबकि आपको इस बात की जानकारी है, कि वर्तमान बाजार की स्थिति कुछ समय या अल्पावधि में आपके स्टॉक के लिए अनुकूल नहीं हो सकती है। इस स्थिति में आप कवर कॉल ऑप्‍शन का उपयोग कर सकते है।
  • यदि आपको लगता है कि किसी स्टॉक को अधिक प्राइज बहुत अधिक हो गया है, तो ऐसी स्थिति में भी आप उसमें उच्च प्रीमियम प्राप्त करने के लिए कवर कॉल ऑप्‍शन का उपयोग कर सकते है, क्योंकि ओवर वैल्यूएशन सीधे उच्च प्रीमियम से प्राप्त किया जा सकता है।

हालांकि कवर पुट ऑप्‍शन भी कवर कॉल ऑप्‍शन से अलग नहीं है। इसमें हम कह सकते है कि यह कवर कॉल का एक छोटा संस्करण है। इसमें कई बातें कवर कॉल ऑप्‍शन के समान ही है। कवर पुट ऑप्‍शन भी निवेशकों और ट्रेडर्स के लिए इनकम बढ़ाने वाला होता है।

  • आप प्राप्त प्रीमियम के रूप में मुनाफा कमा सकते हैं। 
  • प्राप्त प्रीमियम की राशि नुकसान को कम करने में मदद करती है।

कवर ऑप्‍शनसे आप अधिकतम मुनाफा प्राप्त कर सकते हैं, यह स्ट्राइक प्राइज और आपके द्वारा प्राप्त प्रीमियम सहित शॉर्ट स्ट्राइक प्राइज के बीच का अंतर है।


कवर ऑप्‍शन रिस्क

देखा जाए, तो हर लाइफ में हर एक चीज का एक ग्रे साइड होता है। यहां तक की हमारे दैनिक जीवन में उपयोग की जाने वाली शक्कर का भी नुकसान का सेट होता है

आइए देखें कि जब हम इन टेक्नीक का उपयोग करके ट्रेडिंग करते हैं, तो किस प्रकार के नुकसान वाले ऑप्‍शन होते हैं:-

कवर कॉल के नुकसान

कवर कॉल का उपयोग करने में कुछ नुकसान जरूर होता है। आईए इसे विस्तार से समझें:

  • सिर्फ इसलिए कि आपके पास स्टॉक है, इसका मतलब यह नहीं है कि आपका कुछ नुकसान नहीं होगा। हां, लेकिन यदि आपने कवर कॉल का उपयोग किया है और स्टॉक की कीमत कम हो जाती है, तो आप कॉल ऑप्‍शनमें कुछ नुकसान जरूर होगा। इससे तात्पर्य यह है कि कवर कॉल का नुकसान, खरीदने और होल्डिंग से कम होगा।
  • इसके साथ ही, यदि आप कवर कॉल ऑप्‍शनका निर्धारित स्ट्राइक प्राइज  काफी कम हैं, तो आप शेयर की कीमत कम होने पर भी मुनाफा कमा सकते हैं।

कवर पुट के रिस्क

जैसा कि आप जानते हैं कि एक पुट ऑप्‍शनका राइटर स्टॉक पर भी शॉर्ट  है, वह असीमित नुकसान का भुगतान करना पड़ सकता है।

क्योंकि यह पता लगाना संभव नहीं है कि समाप्ति के समय स्टॉक प्राइज किस दिशा में जाएगा। हालांकि, एक्सपायरी के समय एक स्टॉक का असीमित बढ़ना लगभग असंभव है।


कवर ऑप्‍शन वर्सेस नेक्ड आप्शन

आईए अब एक नजर डालते हुए जल्दी से कवर ऑप्‍शनऔर नेक्ड ऑप्‍शनके कुछ अंतरों को समझे:

  • कवर किए गए आप्शनों में, बेचने वाला अंडरलेइंग एसेट को होल्ड कर सकता है। दूसरी ओर, नेक्ड ऑप्‍शनमें, सेलर या बेचने वाला अंडरलेइंग एसेट नहीं रखते हैं। 
  • आमतौर पर, एक कवर ऑप्‍शनको नुकसान उठाने वाले और हेजर्स द्वारा पसंद किया जाता है। जबकि नेक्ड ऑप्‍शनको सटोरियों द्वारा पसंद किया जाता है।

कवर ऑप्‍शन का सारांश

आईए अब आखिरी में सारांश के माध्यम से कवर किए गए ऑप्‍शनके कुछ जरूरी बिंदुओं को समझे

  • कवर किए गए विकल्प उस स्थिति को संदर्भित करते हैं, जिसमें एक ट्रेडर या निवेशक ऑप्‍शन राइटिंग कर अंडरलेइंग एसेट पर एक समान विपरीत पोजीशन बनाता है। 
  • एक कवर ऑप्‍शन मुख्य रूप से हेजर्स और नुकसान धारको द्वारा उपयोग किया जाता है।
  • कवर ऑप्‍शन में, आप उस स्टॉक पर कॉल ऑप्‍शन राइट (शॉर्ट सेल) करते हैं, जो आपके पास पहले से है। इसलिए, जब खरीदार अपने अधिकारों का उपयोग करता है, तो आपको बाजार से स्टॉक खरीदने की आवश्यकता नहीं है। 
  • अधिकतर, निवेशक अपने पोर्टफोलियो के शेयरों से मुनाफा कमाने के लिए कवर किए गए कॉल ऑप्‍शंंस का उपयोग करते हैं, जिस पर उन्हें उम्मीद है कि छोटी अवधि में कीमत नीचे जा सकती है। 
  • कवर्ड पुट ऑप्‍शनप्राप्त प्रीमियम के बराबर नुकसान को कम करता है।

यदि आप सामान्य रूप से ऑप्‍शनट्रेडिंग या शेयर बाजार में निवेश शुरू करना चाहते हैं, तो हम आपको आगे ले जाने में आपकी सहायता करेंगे।

यहां कुछ बेसिक जानकारी दी गई उसे नोट करे और आपके लिए   कॉलबैक की व्यवस्था की जाएगी:


Summary
Review Date
Reviewed Item
कवर्ड ऑप्‍शंस
Author Rating
51star1star1star1star1star

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

19 + 7 =